Press "Enter" to skip to content

जानिए आसाराम बापू को जेल भेजना क्यों जरूरी था?

🚩 #हिन्दू संगठन #संस्कृति रक्षक #संघ द्वारा समय-समय पर कई किताबें #प्रकाशित की गई हैं, उसमें एक #किताब है जिसका नाम है “#आसारामजी बापू खतरा या साजिश”  उस #किताब में एक #टाइटल लिखा है कि #संत #आसारामजी को जेल भेजना बहुत जरूरी था !!!
🚩#किताब में लिखा है कि खइचठ रिपोर्ट के अनुसार ‘भारत में किसी भी #गरीब को #ईसाई बनाने का #खर्च #दुनिया के किसी विकसित #देश के मुकाबले 700 गुणा सस्ता है । #भारत पोप के लिए सबसे सस्ता बाजार है । हिन्दू #संत #आसाराम बापू के #सत्संग व बढ़ते #सेवाकार्यों से यह बाजार महँगा होता जा रहा था । #धर्मान्तरण में #तेजी लाने के लिए हिन्दू #संत आसाराम बापू को #जेल भेजकर उनका #प्रभाव #कम करना बहुत #जरूरी #हो गया था ।
🚩#चाकू, छुरा व गोलियों से भून दिया :
🚩#बापू के कई विरोधियों में से सात को गोलियों से भून दिया गया जिसमें तीन मरे, चार बच गये तथा दूसरे एक के ऊपर तेजाब से व दो के ऊपर चाकू से हमला किया गया।
🚩मरने/मारने वाली #षड्यंत्रकारियों की #टीम का एक सदस्य भोलानंद गुप्ता जो पुलिस के हाथों लगा, उसने #सच्चाई बता दी कि हमारी #टीम के लोगों का यह कहना था कि ‘#देखो गुप्ता जी आप फंसते हो या हम में से कोई भी अगर पकड़ा गया तो हम एक दूसरे को गोली मार देंगे या चाकू से वार कर देंगे, ऐसा कुछ हम करवा देंगे जिससे केस पूरा #बापू पर आ जाएँ ।
🚩होता भी ऐसा ही रहा । हर सम्भव प्रयास #मीडिया द्वारा #बापू को दोषी बनाने का किया गया तथा #आश्रम वालों पर भी केस किये गए ।
🚩#संत #आसारामजी का खतरनाक #मिशन #धर्मान्तरण को #रोकना !!
🚩#संत #आसारामजी #बापू के वक्ताओं द्वारा प्रतिवर्ष #हजारों #सत्संग कार्यक्रम, 1200 #भजन मंडली, प्रति माह 17 लाख #ऋषि प्रसाद व 3 लाख #लोक कल्याण पत्रिका का प्रकाशन तथा प्रति #वर्ष 4,000 #संकीर्तन यात्रायें निकाली जाती हैं । बच्चों को सुसंस्कारी बनाने के लिए 17000 बाल संस्कार खोले, कत्लखाने जाती गाये बचाकर अनेक गौशालायें खोली, वैदिक पद्धति के अनुसार अनेक गुरुकुल खोले,  उनके सैकडों #आश्रमों में #आयुर्वेदिक, #होमियोपैथिक, #एक्युप्रेशर आदि की #चिकित्सा की जाती है तथा #गाँव-गाँव में #गरीबों आदिवासियों में #निःशुल्क #चिकित्सा-शिविर आयोजित होते हैं तथा कई चल-चिकित्सालय चलते हैं ।
🚩#उड़ीसा, #गुजरात, #मध्य प्रदेश,#छत्तीसगढ, #महाराष्ट्र आदि #राज्यों के सबसे #गरीब इलाकों में गरीबों, #अनाश्रितों एवं विधवाओं के लिए #बापू के #आश्रम द्वारा राशन कार्ड दिये गये हैं । जिससे उन्हें हर माह #अनाज व जीवन उपयोगी वस्तुओं की निःशुल्क सामग्री मिलती है ।
🚩#संत #आसारामजी की ‘#भजन करो #भोजन करो व #रोजी पाओ” #योजना के तहत जिनकी आय कम है अथवा खाली बैठे वृद्धों व परिवारजनों के लिए सुबह से शाम तक #भगवन्नाम जप, #सत्संग, #कीर्तन करवाकर #भोजन व रोजी ( 50 से 80 रुपया प्रतिदिन) दी जाती है । #संत #आसारामजी #बापू ऐसी अनेकों योजनायें चलाकर #ईसाई धर्मान्तरण को रोकते हैं ।
🚩 #विदेशी कम्पनियों को उखाड फेंकना !!
🚩अगर #बापू आसारामजी के #चार #करोड़ #शिष्य व अनुयायी 50 सालों तक शराब व सिगरेट नहीं पीते हैं तो 37 लाख 64,000 करोड़ रुपयों का #शराब कम्पनियों को #घाटा, 22 लाख 72,000 करोड़ रुपयों का #सिगरेट कंपनियों को #घाटा होता है ।
🚩‘#वेलेन्टाइन डे से जुड़े सप्ताह के दौरान #चॉकलेट, फूल, ग्रीटिंग आदि विभिन्न उपहारों की बिक्री के कारोबार में भी #करोड़ों रुपयों का #नुकसान होता है । ऐसे ही #गुटका, #ब्लू #फिल्म, #अश्लील सामान आदि बनाने वाली #कम्पनियों का भी यही हाल है । यदि इन सभी आंकडों को जोड़ा जाय तो #कई सौ लाख करोड़ रुपये हो जाते है। उनके इतने बडे नुकसान की वजह सिर्फ हिन्दू #संत #आसारामजी हैं ।
🚩 #पाश्चात्य #संस्कृति को रोकना !!
नये #त्यौहार बनाना !!
🚩 #संत #आसारामजी ने सन् 2006 से 14 फरवरी को ‘#वेलेन्टाइन डे की #जगह ‘#मातृ-पितृ पूजन दिवस #मनाना शुरु करवाया । इसका ऐसा प्रचार हुआ कि मानो ‘#वेलेन्टाइन डे को #उखाड़ने का ताँडव शुरु हो गया हो । #मलेशिया, #ईरान, #सउदी अरब, #इंडोनेशिया,#जापान, आदि #देशों ने #वेलेन्टाइन डे पर #प्रतिबंध लगा दिया। ‘#मातृ-पितृ पूजन दिवस #विश्वव्यापी हो गया है जिससे #ईसाई जगत में बहुत बड़ी खलबली मच गई ।
🚩इस #बाबा ने #जेल में रहते हुए भी 25 दिसम्बर को ‘#क्रिसमस डे की #जगह‘#तुलसी पूजन दिवस के नये #त्यौहार का प्रचार प्रसार अपने #शिष्यों से करवाया । #धर्मान्तरण करने वाला #ईसाई जगत #बाबा के जेल में जाने के बाद भी परेशान है ।
🚩इन सभी को लेकर #बापू #आसारामजी को #जेल भेजना जरूरी था, #नही तो #ईसाई मिशनरियों का #हिन्दुओं का धर्मान्तरण करवाना #मुश्किल हो जाता और #विदेशी कम्पनियाँ #ठप हो जाती ।
🚩#अब तो आप #समझ ही गये होंगे कि #भारत #विरोधियों द्वारा #संत #आसारामजी बापू को #जेल भेजना कितना जरूरी था ।
🚩 लेकिन ये भी बता दें कि #हिन्दू समाज जो सोया है और #विदेशी ताकतों के खिलाफ आवाज नही उठा रहा है तो एक के बाद एक #संत जेल में भेजे जायेगे और #बाद में हम सभी को #पछतावा ही हाथ लगने वाला है ।
🚩क्योंकि #हिन्दू संस्कृति ही नही बचेगी तो फिर #हिंदुओं का विनाश तो सुनिश्चित है इसलिए अभी भी समय है ।
🚩समय पर चेत जावो और #हिन्दू संतों पर हो रहे #कुठाराघात के #खिलाफ एक होकर #आवाज बुलंद करो ।
🚩 { आसारामजी बापू खतरा या साजिश किताब से }
🚩(अधिक जानकारी हेतु किताब मंगवाये !!
🚩सम्पर्क: 094845 37378
Visit : www.srsinternational.org
🚩Official Azaad Bharat Links:👇🏻
🔺Youtube : https://goo.gl/XU8FPk
🔺 Twitter : https://goo.gl/kfprSt
🔺 Instagram : https://goo.gl/JyyHmf
🔺Google+ : https://goo.gl/Nqo5IX
🔺 Word Press : https://goo.gl/ayGpTG
🔺Pinterest : https://goo.gl/o4z4BJ
More from हिन्दू धर्मMore posts in हिन्दू धर्म »

2 Comments

  1. Charu joshi Charu joshi April 30, 2018

    अब तो हिंदू समाज सतर्क हो जाए और एकजुट होकर अपनी संस्कृति की रक्षा करे।

  2. Durga dewangan Durga dewangan April 30, 2018

    Ab hinduo ko pahle se jyada sawdhan hone ki jarurat hai taki isai mitionrio Bharat me dharmantaran na kar sake

Comments are closed.

Translate »