Press "Enter" to skip to content

ईसाई पादरी ने 10 साल की बच्ची से किया रेप, मीडिया ने साधी चुप्पी..

9 नवम्बर 2018   
🚩कैथलिक चर्च की दया, शांति और कल्याण की असलियत, दुनिया के सामने उजागर हो ही गयी है । मानवता और कल्याण के नाम पर हो रही क्रूरता की पोल खुल चुकी है । चर्च कुकर्मों की पाठशाला व सेक्स स्कैंडल का अड्डा बन गया है, लेकिन सेक्युलर, मीडिया की नजर इनपर नहीं जाती है इनकी नजर गिद्ध की तरह है, गिद्ध कितना भी ऊंचा उड़े लेकिन उसकी नजर केवल नीचे पड़े मांस पर होती है वैसे ही हिन्दू धर्म और साधु संतों की महानता कितनी ही हो पर किंतु उसपर इन गिद्ध रुपी मीडिया की नजर नहीं जाती है और ना ही ईसाई पादरी या मौलवी के दुष्कर्मों पर जाती है उनकी नजर केवल हिन्दू धर्म के साधु संतों के अच्छे कार्य और हिन्दू संस्कृति को खत्म करने की ही नजर रहती है ।
Christian pastor raped by 10-year-old girl; simple silence in media

🚩अभी हाल ही में नगालैंड के चर्च से एक 60 साल के पादरी को गिरफ्तार किया गया है। पादरी पर आरोप है कि उसने असम की दस वर्षीय बच्ची के साथ रेप किया, लेकिन मीडिया में कहीं भी खबर नहीं आ रही है, किसी ने लिखा तो थोड़ा बहुत लिख दिया बाकी ज्यादा हाइलाइट नहीं हो रही हैं, लेकिन यदि किसी साधु-संत पर षड्यंत्र के तहत झूठा आरोप भी लग जाए तो भी दिनभर खबरें चलती रहती हैं ।
🚩आपको बता दें कि नगालैंड के चर्च से एक 60 साल के पादरी को गिरफ्तार किया गया है । पादरी पर आरोप है कि उसने असम की दस वर्षीय बच्ची के साथ रेप किया । इतना ही नहीं उसने एक 35 वर्षीय दूसरे आदमी के साथ मिलकर इस रेप का वीडियो बनाया और उसे सोशल मीडिया में अपलोड कर दिया ।
पुलिस ने बताया कि पादरी का नाम चंद्र कुमार प्रधान है । आरोप है कि 29 अक्टूबर को उसने एक दस साल की बच्ची को अपने घर के पास बगीचे में बुलाया । बगीचे में सूनसान जगह में उसने बच्ची के साथ रेप किया और इसका वीडियो शूट करवाया। वह घटना के बाद से लापता था।
🚩पुलिस अधिकारी श्वेतांक मिश्रा ने बताया कि पादरी ने बच्ची को धमकी भी दी थी । डर की वजह से उसने अपने घर में कुछ नहीं बताया। हालांकि जब उससे बर्दाश्त नहीं हुआ तो उसने 31 अक्टूबर को अपने माता-पिता को पूरी घटना बताई । उन लोगों ने थाने में जाकर पादरी के खिलाफ एफआईआर दर्ज करवाई ।
🚩श्वेतांक ने बताया कि पादरी अपने घर से भागा हुआ था। वह पुलिस की गिरफ्तारी से बचने के लिए बार-बार अपनी लोकेशन भी बदल रहा था । हालांकि पुलिस ने उसे नगालैंड के कोहिमा में एक होटल से पकड़ लिया । पुलिस ने बताया कि पादरी के ऊपर आईपीसी की धाराओं के साथ ही आईटी ऐक्ट और पॉक्सो ऐक्ट की धाराओं में भी केस दर्ज किया गया है।
🚩कन्नूर (केरल) के कैथोलिक चर्च की एक  नन सिस्टर मैरी चांडी  ने पादरियों और ननों का चर्च और उनके शिक्षण संस्थानों में व्याप्त व्यभिचार का जिक्र अपनी आत्मकथा ‘ननमा निरंजवले स्वस्ति’ में किया है कि ‘चर्च के भीतर की जिन्दगी आध्यात्मिकता के बजाय वासना से भरी थी । एक पादरी ने मेरे साथ बलात्कार की कोशिश की थी । मैंने उस पर स्टूल चलाकर इज्जत बचायी थी ।’ यहाँ गर्भ में ही बच्चों को मार देने की प्रवृत्ति होती है । सान डियेगो चर्च के अधिकारियों ने पादरियों के द्वारा किये गये बलात्कार, यौन-शोषण आदि के 140 से अधिक अपराधों के मामलों को निपटाने के लिए 9.5 करोड़ डॉलर चुकाने का ऑफर किया था ।
🚩चर्च की आड़ में चल रहे यौन शोषण के हजारों मामले सामने आ चुके हैं । सन् 1950 से 2002 के काल में पादरियों के द्वारा किये गये यौन-शोषण के 10,667अपराध दर्ज किये गये । उनमें से 3300 की जाँच पूरी होने के पहले ही वे मर गये । बाकी 7700 में से 6700 पादरियों को अपराधी घोषित किया गया । सन् 2002 में आयरलैंड के पादरियों के यौन-शोषण के अपराधों के कारण 12 करोड़ 80 लाख डॉलर का दंड चुकाना पड़ा । मई 2009 में प्रकाशित रायन रिपोर्ट के अनुसार 30,000 बच्चों को इन संस्थाओं में ईसाई ननों और पादरियों द्वारा प्रताड़ित और उनका शोषण किया जाता रहा ।
🚩इन सब आंकड़ों को देखकर भी मीडिया वालों की नजर उनपर नहीं जाती है लेकिन पवित्र हिन्दू साधु-संतों के खिलाफ झूठी और अनर्गल बातें करते हैं ।
🚩क्योंकि मीडिया को अधिकतर फंडिंग विदेशों से होती है और उसमें भी खासकर अधिकतर पैसे वेटिकन सिटी के लगे हैं इसलिए वे केवल हिन्दू संस्कृति एवं उनके आधर स्तंभ साधु-संतों को टारगेट कर रहे हैं, जिससे हिन्दू धर्म की बदनामी करके आसानी से हिंदुओं को धर्मांतरित कर सकें क्योंकि उनके धर्म में तो कोई अच्छाई या महानता है नहीं, जिससे वो अपने धर्म को हिन्दू धर्म से ऊंचा साबित कर सकें इसलिए वे हिंदुत्व को बदनाम करके, हिन्दू धर्म को मिटाकर अपने धर्म को बढ़ावा देना चाहते हैं ।
🚩अतः कोई भी भारतवासी मीडिया की एकतरफा खबरों पर भरोसा करके अपने ही धर्म एवं धर्मगुरुओं की निंदा न करें, अपनी विवेक बुद्धि का उपयोग करें और षड्यंत्र को समझकर उसका विरोध करें ।
🚩Official Azaad Bharat Links:👇🏻
🔺Youtube : https://goo.gl/XU8FPk
🔺 Twitter : https://goo.gl/kfprSt
🔺 Instagram : https://goo.gl/JyyHmf
🔺Google+ : https://goo.gl/Nqo5IX
🔺 Word Press : https://goo.gl/ayGpTG
🔺Pinterest : https://goo.gl/o4z4BJ

Be First to Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »