Press "Enter" to skip to content

जानिए वजह, भाजपा बहुमत क्यों नहीं ला पाई ?

11 दिसंबर 2018
🚩देश में आज पांच राज्यों के चुनाव के परिणाम घोषित हो गए जिसमें भाजपा को काफी नुकसान उठाना पड़ा जबकि हमारी जनता चाहकर भी भाजपा को वोट नहीं दे पाई, आखिर ऐसा क्यों ? इसके पीछे का कारण जानना भी बहुत जरूरी है ।
🚩लोकसभा चुनाव 2014 में जनता ने भाजपा को भारी बहुमत से विजयी बनाया था और वजह साफ थी कि कांग्रेस  से जनता काफी परेशान हो गई थी और भाजपा से उम्मीद थी कि ये आकर हमारे कार्य पूरे करेंगे, लेकिन 4.5 साल हो गए किन्तु एक भी कार्य अपने या हिन्दुओं के पक्ष में न होता देख आज जनता ने बहुमत नहीं दिया ।
🚩जनता का रोष नोटा के रूप में सामने आया है जिसका आकंड़ा लगभग है :- 
राजस्थान में करीब 3 लाख नोटा
मध्य प्रदेश में 1.5 लाख नोटा
छत्तीसगढ़ में 60 हजार नोटा
तेलंगाना में 1.2 लाख वोट नोटा
मिजोरम में 2 हजार वोट नोटा
Know why the BJP did not bring the majority?

🚩 आखिर ऐसे कौन से कार्य थे जो भाजपा पूरी न कर पाई और जनता की नाराजगी का सामना करना पड़ा ?
आपको कुछ ऐसे मुद्दे बता रहे हैं जिसके कारण जनता ने प्रत्यक्ष-अप्रत्यक्ष रूप से भाजपा को 2019 की चेतावनी दी कि अगर इन मुद्दों को हल नहीं करेंगे तो 2019 में हार के लिए तैयार हो जाइए ।
🚩1. महँगाई
2014 के चुनाव में सबसे बड़ा मुद्दा था कि अगर हमारी सरकार आयेगी तो मंहगाई कम करेगी जिसके कारण जनता ने कांग्रेस से परेशान होकर भाजपा को वोट दिया, लेकिन महंगाई तो कम नहीं हुई ऊपर नोटबंदी करके जनता को परेशान किया गया जिसके कारण जनता का रोष झेलना पड़ा ।
पेट्रोल, डीज़ल, गैस आदि बहुत महंगे हुए जिससे आम जनता की कमर टूट गई ।
🚩2> श्री राम मंदिर
भाजपा ने दावा किया था कि हमारी सरकार बहुमत से आएगी तो अयोध्या में भव्य श्री राम मंदिर बनायेगें, लेकिन सत्ता में आते ही श्री राम मन्दिर बनाना तो दूर किसी सभा में उसका नाम तक नहीं लिया और न ही अयोध्या में दर्शन करने गये जिसकी वजह से करोड़ों श्री राम भक्तों में काफी रोष व्याप्त था । 
राहुल गांधी मंदिरों में जा रहे थे जबकि नरेंद्र मोदी मस्जिदों में जा रहे थे ।
🚩3> गौहत्या 
मोदी जी ने कहा था कि यदि हमारी सरकार आएगी तो बीफ की बिक्री पर बैन लगेगी और गौहत्या पर पूर्णतः रोक, लेकिन उन्होंने गौरक्षकों को ही गुंडा कह दिया जिसके कारण गौभक्तों में काफी रोष था ।
🚩4> साधु-संतों को जेल
भारत के सबसे बड़े हिन्दू धर्मगुरु संत आसाराम बापू को 2013 में तत्कालीन सरकार ने जेल भिजवाया था जिसके कारण उनके करोड़ों भक्तों में काफी रोष व्याप्त था और 2014 में कड़ी मेहनत करके भाजपा को जिताया उन्हें  आस थी कि हिंदूवादी पार्टी आएगी तो हमारे गुरुजी के साथ हुए अन्याय को खत्म कर उन्हें बाहर लाएगी किन्तु हुआ इसके ठीक विपरीत, भाजपा की सरकार के कार्यकाल में उन्हें झूठे आरोप में उम्रकैद हो गई और जमानत तक का विरोध किया गया जिसके कारण भक्तों में काफी रोष था ।
ठीक उसी प्रकार फलाहारी बाबा के भी लाखों भक्तों में ऐसे ही रोष उत्पन्न हो गया था ।
🚩5 > धारा 370 
कश्मीर के लाखों पंडितों को जिहादियों ने कश्मीर से भगा दिया था जिसके कारण आज वे देश मे दर दर की ठोकर खा रहे हैं और धारा 370 के कारण देश का कोई व्यक्ति वहाँ जमीन नहीं खरीद सकता और भी कई मुश्किलें धारा 370 के कारण खड़ी हुई हैं, जिसके कारण देशवासियों को उम्मीद थी कि भाजपा के आने से 370 हट जाएगी , पर नहीं हटी तो आज नतीजा सबके सामने है ।
🚩6> पद्मावती फ़िल्म
वीरांगना पद्मावती के नाम से एक फ़िल्म बनाई थी जिसमे क्रूर, बलात्कारी खिलजी का महिमा मंडन किया था और पद्मावती का सम्मान नहीं किया गया था इस फ़िल्म को बंद करवाने के लिए देशभर में आक्रोश हुआ था जिसका बीड़ा करणी सेना ने उठाया था पर सरकार ने इसपर ध्यान नहीं दिया जोकि जनता में रोष का कारण बन गया ।
🚩7> SC/ST एक्ट
SC/ST एक्ट के कारण काफी निर्दोष लोगों को फंसाया जा रहा था, जिसके कारण सुप्रीम ने बताया था कि तुरंत गिरफ्तारी न हो बड़े अधिकारी जांच करें फिर ही गिरफ्तारी हो लेकिन मोदी सरकार ने अध्यादेश लाकर तुरंत गिरफ्तारी को यथावत रखा जिसके कारण सवर्णों का रोष प्रकट हुआ ।
🚩8> अल्पसंख्यको का तृष्टिकरण
हिन्दू बाहुल्य देश में मुस्लिम लड़कियों की शादी में 51000 देना और हिन्दुओ को आवश्यकता होने पर भी न देना, इस प्रकार की तुष्टिकरण वाली योजनाओं से हिन्दू काफी आहत हुए ।
🚩9> किसानों की आत्महत्या
किसानों को उचित दाम देने और कर्ज माफी और खाद्य, कीटनाशक दवाइयां सस्ती देने के वादे किए थे पर वे पूरे न कर पाने के कारण किसान आत्महत्या करने को मजबूर हुए जिसके कारण किसानों का भी कोप सहन करना पड़ा ।
🚩10> धर्मांतरण
देश मे ईसाई मिशनरियां इतनी सक्रिय है कि हिंदुओं को लालच देकर या बलपूर्वक तेजी से ईसाई बना रहे हैं, अभी हाल ही में 3 लाख हिन्दू राजस्थान में ईसाई बनाये गए और मुंबई में 2 लाख, ऐसे तो देशभर में अनेक जगह लाखों हिदुओं को ईसाई बनाया जा रहा है जो देश के लिए चिंता जनक है जिसपर रोक नही लगाई इसके कारण भी हिंदुओं में गुस्सा था ।
🚩11 > GST 
देश मे तुरंत GST लगाने पर छोटे उद्योगों पर काफी असर पड़ा जिसके कारण कई लोगों के रोजगार चले गए इसकी वजह से भी कुछ लोगो मे नाराजगी थी ।
🚩12> भ्रष्टाचार
मोदी जी ने चुनाव से पहले कहा था कि सभी भ्रष्टाचारियों को जेल भेजेंगे लेकिन भ्रष्टाचारी को जेल नहीं भेजा और छोटे-मोटे चोरी वाले मुजरिम सालों से जेल में सड़ रहे हैं, इसके कारण भी जनता में रोष था ।
🚩वैसे तो भाजपा कुछ अच्छे कार्य कर रही है पर उसे पूर्ण सफलता नही मिल रही है, दूसरी बात हिन्दुओं को अनदेखा किया गया, तीसरी बात थी कि उनका घमंड भी कुछ हद तक बढ़ गया था जो ठीक नहीं था, जनता सब जानती है कि कैसे कार्य हो रहा है और हमे क्या करना है ।
🚩भाजपा आने के बाद आतंकवाद पर काफी रोक लगी है, महँगाई पर भी कंट्रोल कर रहे हैं, देश मे दंगे-फसाद भी बहुत कम मात्रा में हुए हैं, हिन्दू सुरक्षित महसूस कर रहे हैं, विदेशों में भारत का नाम रोशन हो रहा है, लेकिन हिन्दुओं को अनदेखा करना ठीक नहीं है इसके कारण हार का सामना करना पड़ा है । जनता यही चाहती है कि भाजपा फिर से 2019 में बहुतमत से चुनकर आये इसके लिए धीरे से झटका दिया है कि हिंदुत्व के लिए कार्य करिए अन्यथा कहीं ऐसा न हो कि 2019 में मुँह की खानी पड़े ।
🚩Official Azaad Bharat Links:👇🏻
🔺Youtube : https://goo.gl/XU8FPk
🔺 Twitter : https://goo.gl/kfprSt
🔺 Instagram : https://goo.gl/JyyHmf
🔺Google+ : https://goo.gl/Nqo5IX
🔺 Word Press : https://goo.gl/ayGpTG
🔺Pinterest : https://goo.gl/o4z4BJ

2 Comments

  1. Ghanshyam das godwani Ghanshyam das godwani December 11, 2018

    भारत के सबसे बड़े हिन्दू धर्मगुरु संत आसाराम बापू को 2013 में तत्कालीन सरकार ने जेल भिजवाया था जिसके कारण उनके करोड़ों भक्तों में काफी रोष व्याप्त था और 2014 में कड़ी मेहनत करके भाजपा को जिताया उन्हें आस थी कि हिंदूवादी पार्टी आएगी तो हमारे गुरुजी के साथ हुए अन्याय को खत्म कर उन्हें बाहर लाएगी किन्तु हुआ इसके ठीक विपरीत, भाजपा की सरकार के कार्यकाल में उन्हें झूठे आरोप में उम्रकैद हो गई और जमानत तक का विरोध किया गया जिसके कारण भक्तों में काफी रोष था ।

  2. Ketan Patel Ketan Patel December 12, 2018

    Disciples of Asaram Bapu Ji matter a lot in any election in North,west, central India along with Karnataka

Comments are closed.

Translate »