Press "Enter" to skip to content

सबसे ज्यादा शिक्षित हिन्दू हैं,अमेरिका में हिंदू महिला लड़ेगी राष्ट्रपति का चुनाव

15 जनवरी  2019
🚩हिंदू धर्म को नष्ट करने व हिंदूओ को दुनिया के नक़्शे से मिटाने के लिए अनेक षड़यंत्र रचे गए हैं और चल भी रहे हैं, लेकिन हिंदू धर्म सनातन धर्म है, दुनिया के सभी हिन्दू विरोधी मिलकर भी प्रयास करें तो भी इसे नहीं मिटा सकते हैं क्योंकि ये सनातन धर्म है जब से सृष्टि का उद्गम हुआ है तब से यह धर्म है जिस दिन हिन्दू धर्म का अस्तित्व मिट जायेगा उस दिन से सृष्टि का प्रलय हो जायेगा सनातन धर्म ही सृष्टि का नाभि है ।
दुनिया के सबसे शक्तिशाली देश अमेरिका से एक ऐसी खबर सामने आई है जो समस्त सनातनियों के लिए गर्व करने की बात है । इस रिपोर्ट के मुताबिक़, अमेरिका में हिंदू समुदाय के लोग सबसे ज्यादा पढ़े लिखे हैं ।
🚩प्यू रिसर्च के मुताबिक, अमेरिका में रह रहे सभी धार्मिक समुहों में हिंदू समुदाय के लोग सबसे ज्यादा शिक्षित है । पिछले महीने दिसंबर में जारी हुई इस रिपोर्ट में बताया गया है कि शिक्षा के मामले में अमेरिका में रह रहे हिंदुओ ने यहूदी समुदाय के लोगों को भी पछाड़ दिया है, जो अब तक सबसे ऊपर थे । इस रिपोर्ट के अनुसार, कॉलेज डिग्री वालों में सबसे अधिक संख्या हिंदुओं की है ।
🚩इस रिपोर्ट के मुताबिक़, नॉर्थ अमेरिका, यूरोप, कैरिबायाई और सब-सहारा अफ्रीका देशों से लेकर जहां भी हिंदू बहुसंख्यक हैं, वहां हिंदू समुदाय के लोग ही सबसे ज्यादा शिक्षित है । रिपोर्ट के मुताबिक, धर्म के आधार पर अगर देखा जाए तो 77 फीसदी के साथ कॉलेज डिग्री वालों में से हिंदुओं की संख्या सबसे ज्यादा है । हिंदुओं के बाद दूसरा नंबर यूनिटेरियन समुदाय के लोगों का आता है, जो दूसरे सबसे ज्यादा शिक्षित है ।
🚩भारतीय अमेरिकी समुदाय ने अमेरिका में सबसे धनी और सबसे शिक्षित के रूप में अपनी पहचान बनाई है । प्यू के अध्ययन में कहा गया है कि अधिक शिक्षित होने के कारण ही हिंदू देश में अमीर हैं । इस संगठन ने आर्थित सफलता और शिक्षा के बीच के संबंध के बारे में बताया है । प्यू के 2014 के अध्ययन के अनुसार यहूदी और हिंदुओं की वार्षिक आय अधिक है । यहुदियों में 10 में से 4 (44 फीसदी) लोग और हिंदुओं में 10 में से 3 (36 फीसदी) लोग ऐसे हैं जिनकी सालाना एक लाख डॉलर के करीब है ।
🚩अमेरिका में हिंदू सांसद लड़ेगी चुनाव…
वॉशिंगटन: अमेरिका की पहली हिंदू सांसद तुलसी गेबार्ड 2020 में होने वाले राष्ट्रपति चुनाव में उम्मीदवारी भर रही हैं । तमाम कयासों पर विराम देते हुए गेबार्ड ने यह साफ़ कर दिया है कि वे 2020 का अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव लड़ने वाली हैं । अमेरिकी सीनेट में हवाई का प्रतिनिधित्व करने वाली डेमोक्रेट सांसद तुलसी बेबार्ड ने मीडिया को बताया है कि, ‘मैंने तय कर लिया है कि मैं राष्ट्रपति चुनाव लड़ूंगी ।’
🚩अमेरिका के इतिहास में ऐसा पहली बार होगा जब किसी हिंदू को अमेरिका की किसी पार्टी की ओर से राष्ट्रपति चुनाव की उम्मीदवारी मिलेगी ।  वहीं अगर गेबार्ड 2020 का राष्ट्रपति चुनाव में जीत दर्ज करती हैं, तो वे अमेरिका की प्रथम महिला और सबसे युवा राष्ट्रपति होंगी ।
आपको बता दें कि तुलसी गेबार्ड हिंदू जरूर हैं, लेकिन वे भारतीय मूल की नहीं है । तुलसी गेबार्ड का जन्म अमेरिका के समोआ में एक कैथोलिक परिवार के घर हुआ था । उनकी मां कॉकेशियन हैं, जिन्होंने बाद में हिंदू धर्म अपना लिया था । तुलसी दो साल की थीं, तब वे अपनी माँ के साथ हवाई आकर रहने लगीं और बाद में उन्होंने भी हिंदू धर्म अपना लिया । तुलसी पहली ऐसी अमेरिकी सांसद हैं, जिन्होंने भगवत गीता को हाथ में लेकर शपथ ग्रहण की थी ।
🚩हिन्दुत्व एक व्यवस्था है मानव में महामानव और महामानव में महेश्वर को प्रगट करने की । यह द्विपादपशु सदृश उच्छृंखल व्यक्ति को देवता बनाने वाली एक महान परम्परा है । ‘सर्वे भवन्तु सुखिनः’ का उद्घोष केवल इसी संस्कृति के द्वारा किया गया है…..
🚩भारतीय हिंदूओ को भी अपनी महिमा समझनी पड़ेगी और हिंदू संस्कृति पर हो रहे है कुठाराघात को रोकना पड़ेगा, हिन्दू धर्म, हिन्दू साधु-संत, हिंदू कार्यकर्ता, हिन्दू मंदिर मिटाने के भरपूर प्रयास किये जा रहे हैं, जिसमें इसाई मिशनरियां, इस्लामिक राष्ट्र, विदेशी कंपनियां, वामपंथी आदि लगे हैं । इसको रोकने के लिए सभी हिंदूओं को मिलकर प्रयास करना होगा ।
🚩Official Azaad Bharat Links:👇🏻
 🔺Youtube : https://goo.gl/XU8FPk
🔺 Twitter : https://goo.gl/kfprSt
 🔺 Instagram : https://goo.gl/JyyHmf
 🔺Google+ : https://goo.gl/Nqo5IX
🔺 Word Press : https://goo.gl/ayGpTG
 🔺Pinterest : https://goo.gl/o4z4BJ
Translate »