Press "Enter" to skip to content

रिपोर्ट : हिंदुओं को बदनाम करने की रची गई थी साजिश, तबरेज मामले में खुलासा

18 जुलाई 2019
http://azaadbharat.org
🚩आज से ही नहीं सदियों से हिंदुओं के खिलाफ षडयंत्र किया जा रहा है क्योंकि हिंदू सहनशील हैं, हिंदु मेहनती हैं, हिंदू धनी हैं, हिंदू एक नहीं हैं, इन सबका फायदा उठाकर कभी तो भगवा आतंकवाद तो कभी हिंदू साधु-संतों को बलात्कारी तो कभी हिंदू हिंसक इस तरीके से बदनाम किया जा रहा है ।
🚩जैसे भगवा आतंकवाद का नाम देकर पूरे विश्व में हिंदुओं को बदनाम किया गया वैसे ही अभी वर्तमान में जय श्री राम बोलकर मुसलमानों को पीटा गया ऐसा बोलकर बदनाम किया गया, तबरेज के मामले में भी ऐसे ही हिंदुओं को बदनाम किया गया गया पर रिपोर्ट देखकर, आप भी समझ जाएंगे कि हिंदुओं को बदनाम करने की बड़ी साजिस रची गई थी जिसमें मीडिया ने भी हिंदू विरोधी रोल बखूबी निभाया।
🚩आइए जानते है क्या है रिपोर्ट?
‘जय श्रीराम’ वाले मामलों पर रिपोर्ट
🚩उत्तर प्रदेश में कानपुर, उन्नाव समेत कई अन्य जिलों से सांप्रदायिक तनाव पैदा करने वाली खबरें सामने आईं। कानपुर और उन्नाव में तो एक समुदाय के लोगों ने आरोप लगाया कि जय श्रीराम न बोलने पर उनकी पिटाई की गई। इन दावों ने प्रशासनिक अमले में हड़कंप मचा दिया। ऐसी कई घटनाओं को लेकर उत्तर प्रदेश के डीजीपी ओपी सिंह ने कहा कि हाल ही में कई ऐसे मामले सामने आए हैं, जिनके जरिए सांप्रदायिक तनाव पैदा करने की कोशिश की गई है।
🚩यूपी के पुलिस महानिदेशक ओपी सिंह ने कहा, ‘अलीगढ़ में एक शख्स ने दावा किया कि उसकी टोपी उतारी गई और उसे ट्रेन में प्रताड़ित किया गया। हमने इस मामले की जांच की, वह बरेली जिले में स्थित किसी मदरसे में पढ़ता था। हमने पाया कि जिस प्रकार की बातें वह कह रहा है, ऐसा कुछ हुआ ही नहीं।’
🚩कानपुर और उन्नाव की घटना का किया जिक्र-
ओपी सिंह ने कहा, ‘इसी तर्ज पर कानपुर और हाल ही में उन्नाव से भी घटनाएं सामने आईं। जहां लोगों ने यह दावा करते हुए एफआईआर दर्ज कराई कि उनसे जय श्रीराम का नारा लगाने को कहा गया जबकि तथ्य इन बयानों के एकदम विपरीत थे।’
🚩क्या था उन्नाव का मामला?
बता दें कि हाल ही में उन्नाव से एक मामला सामने आया था, जिसमें मदरसे के छात्रों का कहना था कि उन्हें जय श्रीराम न बोलने पर कुछ युवकों ने बुरी तरह से पीटा। मामले की जांच के दौरान जय श्रीराम बोलने जैसी कोई बात सामने नहीं आई थी। इतना ही नहीं, मदरसे के मौलवी निसार अहमद ने जिन युवकों के खिलाफ नामजद मुकदमा दर्ज कराया था, पुलिस इन्वेस्टिगेशन में उनकी घटनास्थल पर मौजूदगी भी नहीं पाई गई थी।
स्त्रोत – नवभारतटाइम्स
🚩तबरेज मॉब लिंचिंग: SDM की रिपोर्ट
एसडीएम की एक विस्तृत रिपोर्ट में तबरेज की मौत के लिए डॉक्टर और पुलिसकर्मी जिम्मेदार बताए गए हैं।

🚩तबरेज मॉब लिचिंग मामले की बुधवार को रांची हाईकोर्ट में सुनवाई हुई। हाईकोर्ट में सरायकेला के एसडीएम ने विस्तृत रिपोर्ट पेश की। इस रिपोर्ट के मुताबिक, तबरेज की मौत के जिम्मेदार डॉक्टर और पुलिसकर्मी हैं। दोनों ने स्वीकृति बयान को हल्के में लिया। इसके साथ ही एसडीएम ने अपनी रिपोर्ट में जिम्मेदारों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की।

🚩मारपीट की घटना के एक हफ्ते बाद अंसारी की पुलिस हिरासत में मौत हो गई थी। उनकी हत्या के मामले में 11 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट दो दिन पहले सरायकेला पुलिस को सौंपी गई। जांच के दौरान यह पाया गया है कि तबरेज अंसारी को बचाने के लिए दो थानों के प्रभारी अधिकारी ने समय पर प्रतिक्रिया नहीं दी।
🚩जिन डॉक्टरों ने तबरेज का इलाज किया, उन्होंने ठीक से नहीं जांचा। अंसारी की हत्या को लेकर झारखंड हाई कोर्ट ने राज्य सरकार से रिपोर्ट मांगी है। स्त्रोत : आजतक
🚩आपने ऊपर दी गई रिपोर्ट देखी जिससे ये साफ हो गया कि जहाँ हिन्दू-मुसलमान का कोई मसला ही नहीं है वहाँ पर भी कुछ लोग ऐसे हैं जो सरकार और हिंदुओं को बदनाम करने की साजिश रच रहे थे, जानबूझकर सांप्रदायिक तनाव पैदा करने के लिए ये सब किया जा रहा था और मीडिया उसका खुब साथ निभा रही थी।
🚩हिंदुओं को सजग व एक रहने की अत्यंत जरूरत है, सहिष्णु के नाम पर पलायनवादी नहीं बनना है, कोई भी हिंदुनिष्ठ या हिन्दू धर्मगुरु या हिंदू कहीं भी फसाया जाता है तो एकजुट होकर उसकी सहाय करिए अन्यथा जो राष्ट्र विरोधी ताकतें चाहती हैं कि हमारी एकता टूट जाये, उनकी मुरादें पूरी हो सकती है । हमारी एकता तोड़ने के लिए पहले हिंदुनिष्ठ नेता एवं हिंदू साधु-संतों को टारगेट करते है उनको बदनाम करते हैं, जेल भेजते हैं या हत्या करवा देते हैं इसलिए ऐसी घटना कहीं भी घटित होती दिखे तो मिलकर मुकाबला करना होगा तभी हिंदुओं का अस्तित्व बच सकेगा।
🚩Official Azaad Bharat Links:👇🏻
🔺Youtube : https://goo.gl/XU8FPk
🔺 Twitter : https://goo.gl/kfprSt
🔺 Instagram : https://goo.gl/JyyHmf
🔺Google+ : https://goo.gl/Nqo5IX
🔺 Word Press : https://goo.gl/ayGpTG
🔺Pinterest : https://goo.gl/o4z4BJ
Translate »