Press "Enter" to skip to content

राष्ट्र विरोधी शक्ति हुई परास्त, हिंदुओं की हुई विजय

21 मार्च 2019
www.azaadbharat.org
🚩पूरी दुनिया में हिन्दू ही एकमात्र ऐसा धर्म है जो कभी किसी का भी बुरा न सोचता है और ना ही करता है, फिर भी कुछ राष्ट्र विरोधी ताकतें अपने देश में बैठे गद्दारों से मिलकर हिंदुत्व पर प्रहार करते रहते हैं ।
🚩आपको बता दें कि जॉइंट इंटेलीजेंसी कमेटी के पूर्व प्रमुख और पूर्व उपराष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार डॉ. एस.डी. प्रधान ने देश में भगवा आतंक की थ्योरी को लेकर कई सनसनीखेज खुलासे किए हैं ।

🚩उन्होंने भी स्पष्ट बताया है कि समझौता एक्सप्रेस ब्लास्ट, मालेगाँव ब्लास्ट, इशरतजहाँ मामला का पहले से ही हमें पता था और अमेरिकन खुफिया विभाग ने भी बताया था कि ये सब घटनाएं होने वाली थी और ये पाकिस्तान करवा रहा है और हमने तत्कालीन गृहमंत्री पी.चिदंबरम को बताया भी था, लेकिन उन्होंने राजनैतिक फायदे के लिए तथा भगवा आतंकवाद सिद्ध करने के लिए डी.जी.वंजारा, साध्वी प्रज्ञा, स्वामी असीमानन्द, शंकराचार्य अमृतानन्दजी, कर्नल पुरोहित आदि को जेल भिजवा दिया था ।
🚩बता दें कि हिंदू धर्म को बदनाम करने के लिए फर्जी केस बनाकर हिन्दू संत आसारामजी बापू और उनके बेटे को भी जेल भेजा गया ।
🚩साध्वी प्रज्ञा ठाकुर जेल से जब बाहर आई तो कहा कि कांग्रेस के तात्कालीन गृहमंत्री पी. चिदंबरम ने भगवा आतंकवाद की परिभाषा गढ़ी थी और मुझे फंसाने की साजिश की थी, लेकिन कोर्ट में इतना तो साबित हो गया कि कोई भगवा आतंकवाद नहीं होता । साध्वी ने बताया था कि बापू आसारामजी भी निर्दोष है उनको षड्यंत तहत फँसाया गया है ।
*🚩स्वामी असीमानंद समेत सभी बरी:-
वर्ष 2007 के समझौता ब्लास्ट केस में बड़ा फैसला सुनाते हुए पंचकूला की एनआईए कोर्ट ने स्वामी असीमानंद समेत सभी चार आरोपियों को बरी कर दिया है। इस मामले में स्वामी असीमानंद के अलावा लोकेश शर्मा, कमल चौहान और रजिंदर चौधरी मुख्य आरोपी थे ।
🚩इस मामले पर 14 मार्च को फैसला आना था, हालांकि पाकिस्तानी महिला वकील ने ईमेल के जरिए याचिका दायर की थी कि उनके पास इस मामले के पर्याप्त सबूत हैं । उनके दावे के बाद मामले की सुनवाई को 20 मार्च तक के लिए टाल दिया गया था । न्यायालय ने बुधवार को महिला की याचिका को सीआरसीपीसी की धारा 311 के तहत खारिज कर दिया ।
🚩समझौता एक्सप्रेस विस्फोट एक आतंकवादी घटना थी जिसमें 18 फरवरी 2007 को भारत और पाकिस्तान के बीच चलने वाली ट्रेन समझौता एक्सप्रेस में विस्फोट हुआ था। यह ट्रेन दिल्ली से पाकिस्तान जा रही थी ।
🚩विस्फोट हरियाणा के पानीपत जिले में चांदनी बाग़ थाने के अंतर्गत सिवाह गांव के दीवाना स्टेशन के नजदीक हुआ था । विस्फोट से लगी आग में 68 व्यक्तियों की मौत हो गई थी और 13 अन्य घायल हो गए थे । मारे गए ज्यादातर लोग पाकिस्तानी नागरिक थे ।
🚩समझौता ब्लास्ट केस में इन्वेस्टिगेटिंग ऑफिसर इंस्पेक्टर गुरदीप सिंह ने एक बड़ा खुलासा किया था कि समझौता ब्लास्ट केस को बहाना बनाकर हिन्दू आतंकवाद का जुमला इजाद किया गया । पाकिस्तानियों को बचाने के लिए और हिन्दुस्तानियों को फंसाने के लिए 2007 में हुए समझौता एक्सप्रेस ब्लास्ट का इस्तेमाल किया गया । इस केस में पाकिस्तानी आतंकवादी पकड़ा गया था, उसने अपना गुनाह भी कबूल किया था, लेकिन महज 14 दिनों में उसे चुपचाप छोड़ दिया । इसके बाद इस केस में स्वामी असीमानंद जी को  फंसाया गया ताकि भगवा आतंकवाद या हिन्दू आतंकवाद को अमली जामा पहनाया जा सके ।
स्वामी असीमानंद जी सहित 4 बरी तो हो गये लेकिन उनको सालों तक बिना सबूत जेल में रखा गया, क्या उनका वो कीमती समय क्या कानून लौटा पायेगा ???
🚩मीडिया ने भी उस समय उनकी खूब बदनामी की, लेकिन जैसे ही उनको कई जगह से निर्दोष बरी किया गया तब मीडिया ने चुप्पी साध ली । जब भी किसी हिन्दू साधु-संत पर आरोप लगता है तो मीडिया उनकी समाज में इतनी बदनामी करती है कि जैसे वो आरोपी नहीं अपराधी हो । पर जब वही संत निर्दोष छूट कर आते हैं तो मीडिया को मानो सांप सूंघ जाता है ।
विचार कीजिये, क्या सिर्फ हिन्दू संतों को बदनाम करने का मीडिया का एजेंडा है..???
🚩कछुवा छाप चाल चलने वाली हमारी न्याय प्रणाली भी मीडिया के प्रभाव में आकर हिन्दू संतों को न्याय नहीं दे पाती है ।
और न्याय मिल भी जाता है तो इतना देरी से मिलता है कि न्याय मिलना न मिलने के ही बराबर हो जाता है । क्या देरी से न्याय मिलना अन्याय नहीं है ??? अभी भी कुछ संत जेल में हैं । उनके लिए अब देखना ये है कि हिन्दुत्वादी कहलाने वाली सरकार #कब इन हिन्दू संतों को भी न्याय दिलवाती है..???
🚩कांग्रेस सरकार ने तो षड्यंत्र करके हिन्दू सन्तों को जेल भेज दिया था पर अब हिंदुत्ववादी कहलाने वाली BJP सरकार कैसे हिंदुओं के माप-दण्ड पर खरी उतरती है , ये देखना है ।
निर्दोष संतों की जल्द से जल्द ससम्मान रिहाई कब करवाती है इसी बात पर सभी हिंदुओं की निगाहें टिकी हैं ।
🚩Official Azaad Bharat Links:
🔺Youtube : https://goo.gl/XU8FPk
🔺 Twitter : https://goo.gl/kfprSt
🔺 Instagram : https://goo.gl/JyyHmf
🔺Google+ : https://goo.gl/Nqo5IX
🔺 Word Press : https://goo.gl/ayGpTG
🔺Pinterest : https://goo.gl/o4z4BJL
Translate »