Press "Enter" to skip to content

नारायण साईं का फैसला आया, लेकिन क्या पहले ऐसा कहीं हुआ है ?

30 अप्रैल 2019 
*🚩गुजरात के सूरत की सेशन कोर्ट ने नारायण साईं के ऊपर लगे आरोपों के सम्बंध में फैसला सुना दिया, आजीवन कारावास दिया गया, पर पहले ऐसी कहीं कोई घटना हुई है ? वे भी आपको जानना जरूरी है ।*
*🚩नारायण साईं पर केस*
*🚩हिंदू संत आसाराम बापू और उनके बेटे नारायण साईं पर गुजरात के सूरत की 2 महिलायें, जो सगी बहनें हैं, उनमें से बड़ी बहन ने बापू आसारामजी के ऊपर 2001 में और छोटी बहन ने नारायण साईं जी पर 2003 में दुष्कर्म हुआ, ऐसा आरोप लगाया । अक्टूबर 2013 में एफआईआर दर्ज की गई ।*
*🚩नारायण साईं पर 11 साल और बापू आसारामजी पर 12 साल पुराना केस दर्ज किया गया । बड़ी बहन FIR में लिखती है कि 2001 में मेरे साथ बापू आसारामजी ने दुष्कर्म किया, लेकिन यहाँ ध्यान देने वाली बात है कि बड़ी बहन ने छोटी बहन को 2002 में संत आसारामजी आश्रम में समर्पित करवाया था । उसके बाद छोटी बहन 2005 और बड़ी बहन 2007 तक उनके आश्रम में रहती है । आश्रम छोड़कर जाने के बाद 2010 में उनकी शादी हो गई और जनवरी 2013 तक वो बापू आसारामजी और नारायण साईं के कार्य्रकम में आती रहती हैं, सत्संग सुनती हैं, कीर्तन करती हैं ।*
*🚩बड़ा आश्चर्य तो ये जानकर हुआ कि जब बड़ी बहन के साथ दुष्कर्म हुआ उसके बाद कोई अपनी छोटी बहन को उसी आश्रम में समर्पित करवाया, क्या ऐसा कभी हो सकता है ? लेकिन उसने किया फिर 2007 तक आश्रम में रहे, 2010 में शादी की 2013 तक उनके पास जाते रहे और 2013 में आरोप लगाया इससे तो मन में एक ही प्रश्न आता है कि कहीं यह साजिश तो नहीं है ?*
*🚩बता दें कि पुलिस ने भी दोनों लड़कियों का 5 से 6 बार बयान लिया उसमें हरबार बयान विरोधाभासी आये और वे हर बार बयान बदल देती थीं । इससे संशय होता है कि ये केस कहीं उपजाऊ, बनावटी तो नहीं है ?*
*🚩इससे बड़ी विडंबना देखिये कि दिसम्बर 2014 में लड़की केस वापस लेना चाहती है, लेकिन सरकार द्वारा विरोध किया जाता है और न्यायालय उसको केस वापिस लेने को मना कर देता है ।*
*🚩बचाव पक्ष के वकील का कहना है कि कोई प्रूफ नहीं है फिर भी दोबारा आजीवन कारावास देना विडंबना नहीं लग रही है ?*
*_🚩6 साल पुराना केस खारिज_*
*🚩आपको बता दें कि कुछ समय पहले दिल्ली की एक त्वरित अदालत के न्यायाधीश प्रवीण कुमार ने 2010 में 30 वर्षीय एक विवाहित महिला को नशीला पेय पदार्थ पिलाकर कथित रूप से उससे बलात्कार करने के आरोपी दिल्ली निवासी को यह कहकर बरी कर दिया कि आरोपी व्यक्ति के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराने में छह साल की देरी की कोई वैध वजह नहीं बताई गई ।*
*🚩जब 6 साल पुराना केस खारिज हो जाता है तो 11 साल पुराना केस कैसे साबित हो रहा है ? बड़ा अजीब मससुस हो रहा है ।*
*_🚩आंध्रप्रदेश का मामला_*
*🚩बता दें कि आंध्र प्रदेश का पी सत्यम बाबू नाम के युवक पर छात्रा का रेप के बाद हत्या के आरोप में सेशन कोर्ट ने आजीवन कारावास की सजा दे दी लेकिन आठ साल बाद हाईकोर्ट ने निर्दोष बरी कर दिया । पुलिस ने झूठे केस में फँसा दिया था ।*
*_🚩साधु-संतों के खिलाफ मामले_*
*🚩7 दिन पहले केरल स्थित कोल्लम के पनमना आश्रम के ‘हिन्दू ऐक्या वेदी’ नाम के संगठन से जुड़े 54 साल के एक स्वामी जी मीडिया की सुर्खियों में रहे , मीडिया ने उनकी खूब बदनामी की । बताया गया कि लड़की का बलात्कार करने की कोशिश की तो चाकू से उनका लिंग काट दिया गया ।*
*🚩जबकि स्वामी ने बताया था कि लिंग मेरे काम का नही था इसलिए काट दिया और युवती ने वकील को खत लिखकर कहा कि स्वामी जी की ओर से मेरे साथ कभी भी यौन उत्पीड़न नहीं किया गया है । स्वामी को फंसाने के लिए षडयंत्र किया गया था ।*
*🚩गुजरात द्वारका के केशवानंदजी पर कुछ समय पूर्व एक महिला ने बलात्कार का आरोप लगाया और सेशन कोर्ट ने सजा भी सुना दी लेकिन 7 साल बाद उनको हाईकोर्ट ने निर्दोष बरी कर दिया ।*
*🚩85 वर्षीय श्री कृपालु महाराज को भी बलात्कार के झूठे आरोप में जेल भेजा गया था ।*
*🚩दक्षिण भारत के स्वामी नित्यानन्द जी के ऊपर भी सेक्स सीडी मिलने का आरोप लगाया गया और उनको जेल भेज दिया गया बाद में उनको कोर्ट ने क्लीनचिट देकर बरी कर दिया ।*
*🚩शिवमोगा और बैंगलोर मठ के शंकराचार्य राघवेश्वर भारती जी पर भी एक गायिका को 3 करोड़ नही देने पर 167 बार बलात्कार करने का आरोप लगाया था । उनको भी कोर्ट ने निर्दोष बरी कर दिया ।*
*🚩कई न्यायालयों ने तो चिंता भी जताई है कि फेक रेप केस करने का एक नया ट्रेड चल पड़ा है । जिसमें बदला लेने की भावना और साजिश के तहत निर्दोषों को फंसाया जा रहा है ।*
*🚩हिन्दू साधु-संतों को बदनाम करने की पुरजोश साजिश चल रही है क्योंकि भारत में कई करोड़ जनता हिन्दू साधु-संतों में श्रद्धा रखती है और उनके बताये मार्ग अनुसार कार्य करती है । पर राष्ट्र विरोधी ताकतों द्वारा जिनको भारत में धर्मांतरण करवाना है, विदेशी प्रोडक्ट बेचना है, पश्चिमी संस्कृति लाना है उनको ये सब सहन नही होता है क्योंकि उनके आड़े आते हैं ये हिन्दू साधु-संत । इसलिए राष्ट्र विरोधी ताकतें मीडिया का दुरूपयोग करके साधु-संतों को बदनाम करने की साजिश करती हैं और कुछ स्वार्थी, लालची नेताओं से मिलकर उनको जेल में भी भिजवा दिया जाता है या हत्या कर दी जाती है ।*
*🚩अतः हिंदुस्तानी सावधान रहें अपने ही धर्मगुरुओं पर लगे आरोप सच्चा मानकर हंसी मजाक नही उड़ाये ओर अपने धर्म का नाश नही करे, षडयंत्र को समझे और उसका डटकर विरोध करें ।*
🚩Official Azaad Bharat Links:👇🏻
🔺Youtube : https://goo.gl/XU8FPk
🔺 facebook :
🔺 Twitter : https://goo.gl/kfprSt
🔺 Instagram : https://goo.gl/JyyHmf
🔺Google+ : https://goo.gl/Nqo5IX
🔺 Word Press : https://goo.gl/ayGpTG
🔺Pinterest : https://goo.gl/o4z4BJ
Translate »