Press "Enter" to skip to content

दो सिद्ध साधुओं ने मोदी जी को लेकर की थी भविष्यवाणी, जो निकली सहीं..

12 दिसंबर 2018
🚩 70 वर्ष तक हिमालय में तपस्या करने वाले 100 वर्ष से अधिक उम्र वाले बोरिया बाबा जिनकी श्रीमति इंदिरा गांधी से लेकर तत्कालीन राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी तक से भी वार्तालाप होती रही है उन्होंने प्रधानमंत्री को एक खत लिखा था और बताया था कि “मोदी जी मेरा आपसे कहना है कि जिस राजा के राज में संत सताए जाए तथा संत महात्मा भयभीत होकर रहें, तो उस राजा का भविष्य कतई उज्जवल नहीं है । इसलिए मेरी तो आपको सलाह है कि संत आशारामजी बापू एक निर्दोष संत हैं । आप सम्मान के साथ उनकी आजादी का जल्दी से जल्दी प्रबंध कर दें ।”
देश के लोगों को पूरी उम्मीद थी कि मोदी जी की सरकार आ जाने पर संत आशारामजी बापू को तुरंत न्याय मिल जायेगा । इस लिए देश के बड़े- बड़े साधु संतों ने भी भाजपा की जीत के लिये खूब-खूब प्रार्थनाएँ, यज्ञ तथा भंडारे किये थे, लेकिन संत आशारामजी #बापू की रिहाई न होने के कारण ही आज भारत के बड़े – बड़े साधु संत व मठाधीश तक भयभीत हैं । 
🚩उन #संतो का कहना है कि जब इतने बड़े संत के साथ सरकार ऐसा बर्ताव कर सकती है तो हम लोगों की तो बिसात ही क्या है ।
इसलिए कोई भी संत महात्मा इस बारे में खुल कर बोल भी नहीं पा रहा है । 
इसलिए मेरी तो आपको सलाह है कि संत आशारामजी बापू एक निर्दोष संत हैं । आप सम्मान के साथ उनकी आजादी का जल्दी से जल्दी प्रबंध कर दें । नहीं तो भुगतने के लिए तैयार रहें । और आज ये भविष्यवाणी सहीं दिखाई दी ।
Two proven sages had predicted Modiji, who came out of the same ..

🚩संत ममलनाथ
अलवर के नजिक नाथ सम्प्रदाय के सुप्रसिद्ध सिद्ध स्थान भरथरी नाथ आश्रम के संत ममलनाथ ने हिन्दू संत आसारामजी बापू का नाम सुनते ही कहा था कि संत आसारामजी बापू तो सिद्धों के भी सिद्ध हैं । आसारामजी बापू पर इस समय जितना अत्याचार किया जा रहा है , भारत के सभी संत-महात्मा उसे देख रहें हैं । अत्याचारियों को इसका फल इसी जीवन में और यहीं इसी भारत भूमि पर भुगतना पड़ेगा । बापूजी तो गुरु गोरखनाथ की तरह अमर हैं । उनका कोई कुछ नहीं बिगाड़ सकता ।
🚩रावण जैसे शक्तिशाली राजा का नाश भी संतों को सताने से हुआ था । रावण के तो लाख पुत्र और सवा लाख नाती थे । फिर भी उसके कुल में कोई दीया बाती करनेवाला नहीं बचा था ।
🚩यह भारत भूमि है । हिन्दू धर्म को नष्ट करने के लिए यहाँ बड़े-बड़े बलवान अत्याचारी बाहर से भी आये पर हिन्दू धर्म को नष्ट नहीं कर पाए । हिन्दू धर्म सत है सत का कभी नाश हो ही नहीं सकता ।
🚩सिकंदर जैसे दुनिया को जीतनेवाले ने भी इस देश में आकर संतों के आगे माथा झुकाया था । हुकूमत के नशे में आकर आसारामजी बापू जैसे संत पर कहर तो ढह रहा है, पर मैं गुरु के आदेश से आपको कह रहा हूँ, पंडित जी, आप और हम अपनी इन्ही आँखों से इनको भुगतते हुए भी जल्दी देखेंगे ।  संदर्भ : आदर्श पंचायती राज 
वर्तमान में जिस तरह से लाखों वोट नोटा में पड़े और भाजपा को 5 राज्यो में  हार का सामना करना पड़ा इससे सिद्ध होता है कि इन दो सिद्ध साधुओं की भविष्यवाणी सहीं निकली ।
🚩गौरतलब है कि हिन्दू संत आसाराम बापू के देश में करोड़ों फॉलोवर्स हैं । उनके भक्तों को 5 साल से बापू आसारामजी को जेल में रखना रास नहीं आया और इसी वजह से उन्होंने नोटा दबाया जिसके कारण हार हुई ।
🚩आपको बता दें कि गुजरात चुनाव में भी भाजपा की हार हो रही थी लेकिन उस समय कोर्ट में आते समय मीडिया को इंटरव्यू दिया था राष्ट्रहित पार्टी को जीता दो जिसके कारण गुजरात मे उनके लाखों फॉलोवर्स ने भाजपा को वोट दिया और भाजपा जीत गई ।
🚩यदि आप भी मीडिया की बातों को सच मानकर बापू आसारामजी को दोषी मानते हैं तो ये सच्चाई भी जान लीजिये…
🚩1.आरोप लगाने वाली लड़की घटना बताती है राजस्थान के जोधपुर की, रहने वाली थी उत्तर प्रदेश की, पढ़ती थी मध्यप्रदेश में और तथाकथित छेड़छाड़ की घटना के 5 दिन बाद FIR करवाई गई ।  वो भी जोधपुर की घटना बताकर FIR जोधपुर से 600 कि.मी.दूर दिल्ली में रात्रि 2:45 बजे ।
🚩2.  जिस रजिस्टर में लड़की की घटना लिखी थी उस हेल्पलाइन रजिस्टर के कई पन्ने संदिग्ध तरीके से फाड़े गए ।
3. 20.08.2013 को लड़की के न्यायालय में मैजिस्ट्रेट के सामने 164 के बयान होने के बाद F.I.R. 21.08.2013 को न्यायालय में पेश की गई ।
🚩4. कमला मार्केट पुलिस स्टेशन, दिल्ली में F.I.R. लिखते समय की गई वीडियो रिकॉर्डिंग गायब कर दी गई, जो आज तक न्यायालय में प्रस्तुत नहीं की गई ।
5. ओरिजिनल एफ.आई.आर. को बदल दिया गया, FIR और FIR की कार्बन कॉपी में अंतर पाया गया ।
🚩6. जोधपुर के पुलिस स्टेशन में लड़की के बयान रिकोर्ड करते समय की गयी वीडियो रिकार्डिंग में कई जगह interruptions पाए गए | 
7.मेडिकल रिपोर्ट में भी लड़की के शरीर पर एक खरोंच का भी निशान नहीं पाया गया ।
🚩8. उम्र संबंधी अलग-अलग सर्टिफिकेट में लड़की की अलग-अलग उम्र पाई गई ।
9. अनुसंधान अधिकारी चंचल मिश्रा द्वारा 12 अगस्त से 17 अगस्त 2013 (तथाकथित घटना के समय) की कॉल डिटेल हटाकर कोर्ट में पेश किया गया ।
🚩10. लड़की की कॉल डिटेल से स्पष्ट हुआ कि घटना की रात लड़की किसी संदिग्ध व्यक्ति से फोन द्वारा संपर्क में थी ।
11. तथाकथित घटना के समय बापू आसारामजी एक मँगनी कार्यक्रम में व्यस्त थे, लड़की कुटिया में गई ही नहीं ।
🚩बता दें कि जब लड़की कुटिया में गई ही नहीं, मेडिकल में कोई प्रूफ है नहीं, फिर भी उम्रकैद सजा देना ये आश्चर्यजनक है ।
आपको बता दें कि उनपर आरोप लगने से पहले उनके आश्रम में फैक्स आया था कि पचास करोड़ दो नहीं तो जेल जाओ और चूंकि आसाराम बापू ने पैसे नहीं दिए उसके बाद ये पूरी घटना हुई ।
🚩बता दें कि डॉ. सुब्रमण्यम स्वामी ने भी कई बार खुलासा किया है कि बापू आसारामजी को धर्मपरिवर्तन पर रोक लगाने और लाखों हिन्दुओं की घरवापसी कराने के कारण षडयंत्र के तहत जेल भिजवाया गया है ।
🚩गौरतलब है कि बापू आसारामजी का समाज व देशहित के सेवाकार्यों में अतुलनीय योगदान रहा है जिसकी भूरी-भूरी प्रशंसा बड़ी-बड़ी सुप्रसिद्ध हस्तियों ने उनके आश्रम को प्रशस्ति पत्र देकर की है । राष्ट्रविरोधी ताकतों को यह रास न आया और उन्हें षड्यंत्रपूर्वक जेल भेजा गया । मोदी ने इसपर ध्यान दिया होता तो जीत हो जाती। 
🚩उनके फॉलोवर्स का कहना है कि 2019 का चुनाव नजदीक है, बापू आसारामजी रिहा नहीं हुए तो करोड़ों की संख्या में नोटा पड़ेंगे जिससे भाजपा को ही नुकसान होगा ।
🚩Official Azaad Bharat Links:👇🏻
🔺Youtube : https://goo.gl/XU8FPk
🔺 Twitter : https://goo.gl/kfprSt
🔺 Instagram : https://goo.gl/JyyHmf
🔺Google+ : https://goo.gl/Nqo5IX
🔺 Word Press : https://goo.gl/ayGpTG
🔺Pinterest : https://goo.gl/o4z4BJ
Translate »