Press "Enter" to skip to content

दो बड़े मामलों में मिल रही है सिर्फ तारीख, करोड़ों की आस्थाओं पर चोट

06 मार्च 2019
www.azaadbharat.org
🚩भारत देश आस्था, विश्वास, श्रद्धा और भक्ति का देश रहा है । जो भी उच्च गुण वाले व्यक्ति, भगवान, संत महापुरुष रहे है लोग उनके प्रति आस्था रखते हैं और उनसे प्रेरणा पाकर उनके अनुसार कर्म करने का प्रयास करके खुद को भी ऊंचा उठाने का प्रयास करते हैं ।

🚩आपको हम दो ऐसे मामलों के बारे में बताएँगे कि कैसे हिंदूओं की आस्था पर गहरी चोट की जा रही है जबकि हमारा देश हिंदू बाहुल्य देश है ।
भगवान श्री राम के प्रति करोड़ो लोगों की आस्था है । श्री रामजी की जन्मस्थली अयोध्या में है वहाँ भव्य मंदिर था, लेकिन क्रुर आक्रमणकारी बाबर के सेनापति मीरबांकी ने 1528 में तोप के माध्यम से श्री राम मंदिर गिरवा दिया  । तबसे लेकर आजतक हिंदू मंदिर के लिए लड़ रहे हैं पर अभी तक उन्हें न्याय नहीं मिला । अभी तक लाखों हिंदूओं ने श्री राम मंदिर के निर्माण के लिए अपने प्राणों की आहुति दे डाली है, लेकिन अभीतक मंदिर नहीं बन पाया ।
🚩सुप्रीम कोर्ट में बुधवार को सुनवाई थी, लेकिन फिर वही हुआ न्याय न मिला, मिली तो बस अगली तारीख ही… बता दें कि समय बचाने के लिए क्या अयोध्या विवाद को मध्यस्थ के पास भेजा जा सकता है या नहीं, इस पर सुप्रीम कोर्ट ने बुधवार को फैसला सुरक्षित रख लिया । संवैधानिक पीठ ने सभी पक्षकारों से मध्यस्थता पैनल के लिए नाम देने के लिए कहा है । हिन्दू महासभा की ओर से तीन व्यक्तियों के नाम भी दे दिए गए हैं ।
सुप्रीम कोर्ट में करीब 9 साल से सुनवाई हो रही है पर अभी तक फैसला नहीं आ पाया अब हिन्दू कब तक इंतजार करते रहेंगे? जबकि सबरीमाला मंदिर के मामले में जल्दी फैसला दे दिया क्योंकि वो हिंदूओ की आस्था के खिलाफ था ।
🚩अब आपको दूसरा मामला बताते हैं हिंदू संत आसाराम बापू का वे जोधपुर जेल में करीब 6 साल से बंद हैं, लेकिन इन 6 सालों में अभीतक एक दिन के लिए भी जमानत नहीं मिल पाई । जबकि उनकी उनकी उम्र 84 साल की है, उनकी धर्मपत्नी बीमार है फिर भी पेरोल या जमानत नहीं दी जा रही है और यकीनन ऐसा दुर्व्यवहार तो किसी आतंकवादी के साथ भी नहीं किया जाता है ।
आपको बता दें कि अभी उनकी धर्मपत्नी को हार्ट अटैक आया था, ICU में वेंटिलेटर पर रखा गया था फिर भी 1 दिन के लिए भी जमानत नहीं दी गई । बुधवार को सुनवाई थी लेकिन मिली तो सिर्फ अगली तारीख़ ही…
🚩आप सबको तो पता ही है कि संत आसाराम बापू को एक झूठे बलात्कार के केस में जेल में रखा गया है | हम यहाँ इस केस को झूठा क्यों कह रहे हैं उसका कारण भी बता देते हैं.. तथाकथित पीड़िता ने घटना का जो वक़्त बताया है उस बात की पुष्टि के लिए जब कॉल डिटेल्स मिलाया गया तो पता चला कि लड़की जो वक़्त घटना का बता रही है उस समय वो वहाँ थी ही नहीं और मेडिकल रिपोर्ट जोकि किसी भी रेप केस में सबसे बड़ा सबूत होता है उसमें भी ऐसा कुछ नहीं पाया गया, उस रिपोर्ट में क्लीनचिट भी मिल गई है फिर भी जेल में रखा जा रहा है ।
बता दें कि सलमान खान को दो-दो बार सजा होने के बाद भी तुरंत जमानत हासिल हो गई, संजय दत्त को सजा होने के बाद भी बार-बार पेरोल मिलती रही, तरुण तेजपाल पर आरोप सिद्ध होने पर भी जमानत मिल गई ऐसे कई सारे उदाहरण है जिनको जमानत हासिल हो जाती है लेकिन हिंदू संत आसाराम बापू को न जमानत मिलती है और ना ही  परोल दी जाती है क्योंकि वे एक हिंदू संत है ।
🚩आपको ये भी बता दे कि दिल्ली के इमाम बुखारी पर गैरजमानती 65 वारंट है , जिसमे कई संगीन आरोप लगे है पर उनकी आजतक गिरफ्तारी नहीं हुई क्योंकि वे लोग उपद्रव करेंगे देश का माहौल खराब होगा, लेकिन एक हिंदू संत को जमानत नहीं दी जा रही है सरकार और न्यायपालिका का रवैया अलग-अलग लोगों के लिए कितना अलग अलग है । क्या हिन्दू संत आसाराम बापू के 8 करोड़ अनुयाई अगर सड़क पर उतरकर उपद्रव करेंगे तो जमानत मिल जायेगी ? बस वे शांति बनाए रखे हैं इसलिए उनके धैर्य की परीक्षा ली जा रही है ।
  इस वजह से कहीं संत आसाराम बापू को जेल में नही रहना पड़ रहा है?
1). लाखों धर्मांतरित ईसाईयों को पुनः हिंदू बनाया व करोड़ों हिन्दुओं को अपने धर्म के प्रति जागरूक किया व आदिवासी इलाकों में जाकर जीवनोपयोगी सामग्री दी, जिससे धर्मान्तरण करने वालों का धंधा चौपट हो गया  ।
2) . कत्लखाने में जाती हज़ारों गौ-माताओं को बचाकर, उनके लिए विशाल गौशालाओं का निर्माण करवाया  ।
3). शिकागो विश्व धर्मपरिषद में स्वामी विवेकानंदजी के 100 साल बाद जाकर हिन्दू संस्कृति का परचम लहराया  ।
  https://youtu.be/fQ7DtN1dc0Q
🚩4). विदेशी कंपनियों द्वारा देश को लूटने से बचाकर आयुर्वेद/होम्योपैथिक के प्रचार-प्रसार द्वारा एलोपैथिक दवाईयों के कुप्रभाव से असंख्य लोगों का स्वास्थ्य और पैसा बचाया  ।
🚩5). लाखों-करोड़ों विद्यार्थियों को सारस्वत्य मंत्र की दीक्षा देकर, तेजस्वी बनाया  ।
🚩6). लंदन, पाकिस्तान, चाईना, अमेरिका और बहुत सारे देशों में जाकर सनातन हिंदू धर्म का ध्वज फहराया  ।
7). वैलेंटाइन डे का विरोध करके “मातृ-पितृ पूजन दिवस” का प्रारम्भ करवाया  ।
🚩8). क्रिसमस डे के दिन प्लास्टिक के क्रिसमस ट्री को सजाने के बजाय, तुलसी पूजन दिवस मनाना शुरू करवाया  ।
9). लाखों-करोड़ों लोगों को अधर्म से धर्म की ओर मोड़ दिया  ।
🚩10). नशा मुक्ति अभियान के द्वारा लाखों लोगों को व्यसन-मुक्त करया  ।
11). वैदिक शिक्षा पर आधारित अनेकों गुरुकुल खुलवाए  ।
🚩12). मुश्किल हालातों में कांची कामकोठी पीठ के “शंकराचार्य श्री #जयेंद्र सरस्वतीजी” बाबा रामदेव, मोरारी बापूजी, साध्वी प्रज्ञा एवं अन्य संतों का साथ दिया  ।
🚩अब दोनों मामले बड़े हैं किसी में भी न्याय नही मिल रहा है, करोड़ों लोगों की आस्था का ख्याल रखना चाहिए सरकार और न्यायलय को, कहीं ऐसा न हो कि जनता को सड़कों पर उतरने में मजबूर होना पड़े इसके लिए शीघ्र न्याय मिलना चाहिए ।
  Official Azaad Bharat Links:
🔺Youtube : https://goo.gl/XU8FPk
🔺 Twitter : https://goo.gl/kfprSt
🔺 Instagram : https://goo.gl/JyyHmf
🔺Google+ : https://goo.gl/Nqo5IX
🔺 Word Press : https://goo.gl/ayGpTG
🔺Pinterest : https://goo.gl/o4z4BJ
Translate »