Press "Enter" to skip to content

जॉनसन पाउडर उपयोग करते हैं तो हो जाइये सावधान, मिले कैंसरकारक तत्व !!

02 दिसम्बर 2019
http://azaadbharat.org
*🚩 विज्ञापन देखकर अधिकतर लोग ये सोचते हैं कि मार्केट में बच्चों के लिए जो प्रोडक्ट्स आते हैं, उनसे सुरक्षित शायद कुछ नहीं हो सकता है। वह हमारी स्किन के लिए बिल्कुल परफेक्ट होते हैं। माना जाता है कि बच्चों के प्रोडक्ट्स में दूध का इस्तेमाल किया जाता है। जिससे कि उनकी स्किन सॉफ्ट बनी रहे लेकिन आप ये बात नहीं जानते हैं कि इससे भी साइड इफेक्ट होते हैं और ऐसे साइड इफेक्ट्स जिससे कि आपकी जान भी जा सकती है।*
*भारत समेत कई देशों में बच्चों के लिए ज्यादातर लोग ‘जॉनसन एंड जॉनसन’ के प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल करते आ रहे हैं। लेकिन उससे कितना खतरनाक नुकसान होता है वे नहीं जानते हैं।* 
*🚩 33 हजार बेबी पाउडर वापस मंगाया….*
*बेबी प्रोडक्ट्स के जरिए हर घर में जगह बनानेवाली अमेरिकी कंपनी ‘जॉनसन एंड जॉनसन’ सवालों के घेरे में है ! दरअसल, कंपनी ने अमेरिका में लगभग 33 हजार बेबी पाउडर के बोतलों को वापस मंगाया है ! न्‍यूज एजेंसी रॉयटर्स के अनुसार बेबी पाउडर के नमूनों में एस्बेस्टस की मात्रा का पता लगा है !*
*🚩 क्‍या होता है एस्बेस्टस ?*
*एस्बेस्टस एक घातक कार्सिनोजेन है जिससे इंसानों में कैंसर बढने का खतरा होता है। यह पहली बार है जब अमेरिका की स्वास्थ्य नियामकों ने प्रोडक्ट में एस्बेस्टस की मात्रा का पता लगाया है ! वहीं पहली बार कंपनी ने अपने बेबी पाउडर प्रोडक्‍ट को बाजार से वापस मंगाया है !*
*🚩 बता दें कि अमेरिकी फार्मा कंपनी जॉनसन एंड जॉनसन अपने बेबी पाउडर, शैम्‍पू और साबुन के जरिए भारत समेत दुनिया के अन्‍य देशों में एक खास पहचान बना चुका है ! हालांकि, कंपनी को अपने कई प्रोडक्ट्स की वजह से मुकदमा और जुर्माने का सामना करना पड़ा है ! हाल ही में एक शख्‍स ने प्रोडक्‍ट पर सवाल खड़ा करते हुए न्यायालय का दरवाजा खटखटाया था। इस मामले की सुनवाई के दौरान जॉनसन एंड जॉनसन को दोषी पाया गया और 8 बिलियन डॉलर का जुर्माना लगा है !*
*🚩 भारत में भी उठे हैं सवाल……!!*
*भारत में भी कई बार जॉनसन एंड जॉनसन विवादों के घेरे में रही है ! बीते अप्रैल में कंपनी के बेबी शैंपू पर सवाल खड़े हुए थे तो वहीं मई महीने में दिल्ली उच्च न्यायालय ने जॉनसन एंड जॉनसन को 67 मरीजों को 25-25 लाख रुपये का मुआवजा देने का निर्देश दिया था ! न्यायालय ने यह फैसला दोषपूर्ण कूल्हा प्रत्यारोपण उपकरण मुहैया कराने के मामले में दिया !*
https://divyabhaskar.page.link/VQ9C
*🚩 9000 केस लड़ रही है कंपनी…..*
*जॉनसन एंड जॉनसन के खिलाफ अमेरिका में यह कोई पहला केस नहीं है। प्रोडक्ट के कारण कई बीमारियां सामने आने के बाद जॉनसन एंड जॉनसन कई देशों में लगभग 9000 से ज्यादा केस लड़ रही है। पहले भी अरबों रुपये का जुर्माना भरना पड़ा है ।*
*🚩 1970 से पाउडर में मौजूद है अबस्टस…..*
*कोर्ट में केस करने वाली महिलाओं का कहना है कि बेबी पाउडर में अबस्टस की मौजूदगी साल 1970 से प्रमाणित है इसके बावजूद कंपनी ने ग्राहकों को न तो इसके बारे में जानकारी दी है और न ही इससे होने वाले खतरों से आगाह किया है।*
*🚩 कोर्ट ने दिया मुआवजा देने का आदेश…*
*दोनों पक्षों की बात सुनने के बाद कोर्ट इस नतीजे पर पहुंचा है कि ‘महिलाओं को कैंसर बेबी पाउडर के कारण ही हुआ है।’ पीड़ित महिलाओं की बात सुनने के बाद कोर्ट ने कंपनी को मुआवज़ा देने का आदेश जारी किया है। कोर्ट ने 22 पीड़ित* *महिलाओं को 4.69 अरब डॉलर के मुआवज़े का आदेश जारी किया है। कोर्ट के आदेश के बाद जहां 550 मिलियन डॉलर हर्जाने के रूप में देने के आदेश हुए, वहीं 4.14* *बिलियन डॉलर का कंपनी पर दंड लगाया है।*
https://zeenews.india.com/hindi/world/johnson-johnson-to-pay-4-7bn-dollar-damages-in-talc-cancer-case/418370
*🚩 यदि आप अपने नवजात शिशु या बच्‍चे के शरीर पर जॉनसन एंड जॉनसन का पॉउडर या बेबी ऑयल या कोई अन्‍य उत्‍पाद इस्‍तेमाल कर रहे हैं, तो सावधान हो जायें। इसमें इथाइल ऑक्‍साइड हो सकता है। यही कारण है कि महाराष्‍ट्र फूड एंड ड्रग एडमिनिस्‍ट्रेशन (एफ.डी.ए) ने मुंबई में मुलुंड स्थित कंपनी के प्‍लांट का लाइसेंस निलंबित कर दिया था।*
*🚩 जॉनसन के टैल्कम पाउडर के साइड इफेक्ट्स….*
*1.सांस संबंधी बीमारी*
*🚩 कुछ समय पहले ‘अमेरिकी एकेडमी ऑफ पेडियाट्रिक्स’ ने अपने एक शोध में जॉनसन एंड जॉनसन कंपनी के टैल्कम पाउडर का बच्चों और शिशुओं पर उपयोग न करने की सलाह दी थी, क्योंकि इसके ज्यादा इस्तेमाल से बच्चों में ‘टैल्कोसिस’ नामक सांस संबंधी बीमारी के लक्षण देखे गए थे।  टैल्कोसिस टैल्कम पाउडर की वजह से होने वाली एक सांस संबंधी बीमारी है। शिशु या बच्चों पर इसका पाउडर लगातार प्रयोग घातक हो सकता है।*
*2. त्वचा परेशानियां*
*🚩 जॉनसन एंड जॉनसन कंपनी के टैल्कम पाउडर के इस्तेमाल से त्वचा संबंधी कई बीमारियां भी होती हैं। इसके लगातार उपयोग से बच्चे की त्वचा रूखी(ड्राई), एक्जिमा, सोरायसिस इत्यादि जैसी अन्य त्वचा समस्याएं होने लगती हैं। इसके अलावा शरीर की प्राकृतिक गंध को भी ये पाउडर खत्म कर देता है।*
*3. ओवेरियन कैंसर (अंडाशय कैंसर)*
*🚩जॉनसन एंड जॉनसन कंपनी के टैल्कम पाउडर के साइड इफेक्ट्स केवल छोटे बच्चों पर ही नहीं पड़ते बल्कि महिलाओं पर भी इसका असर बड़े पैमाने पर देखा गया है। एक अध्ययन के मुताबिक जहां महिलाएं अपने निजी अंगों की सफाई के लिए जॉनसन एंड जॉनसन कंपनी के टैल्कम पाउडर इस्तेमाल करती थीं, उनमें ओवेरियन कैंसर (अंडाशय कैंसर) के खतरा पाया गया ।*
*🚩 बता दें कि बेबी पाउडर कण गर्भ के माध्यम से फैलोपियन ट्यूबों और अंडाशय में यात्रा करते हैं। कण हानिकारक होते हैं क्योंकि शरीर उन्हें तोड़ने में असमर्थ होता है। चिंता की बात ये है कि ओवेरियन कैंसर (अंडाशय कैंसर) बच्चे के पाउडर का उपयोग करने का लंबे समय तक उपयोग करने से होता है।*
https://www.haribhoomi.com/lifestyle/johnson-s-baby-powder-side-effects-in-hindi
*🚩 विदेशी कम्पनियों के टीवी, अखबार, इंटरनेट आदि में विज्ञापन देकर जनता को लुभाती है और पढ़े लिखे लोग भी मूर्ख बन जाते हैं और उनके प्रोडक्ट्स खरीद के उपयोग करते हैं जो आपके स्वास्थ्य और पैसे की बर्बादी करता है अतः विदेशी कम्पनियों के प्रोडक्ट्स से सावधान रहें और आज से ही स्वदेशी प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल करके सुखी, स्वस्थ्य रहें ।*
🚩Official Azaad Bharat Links:👇🏻
🔺Youtube : https://goo.gl/XU8FPk
🔺 Twitter : https://goo.gl/kfprSt
🔺 Instagram : https://goo.gl/JyyHmf
🔺Google+ : https://goo.gl/Nqo5IX
🔺 Word Press : https://goo.gl/ayGpTG
🔺Pinterest : https://goo.gl/o4z4BJ
Translate »