Press "Enter" to skip to content

छः राज्यों के मुख्यमंत्री बोले 14 फरवरी को मनाओ मातृ-पितृ पूजन दिवस

09 फरवरी  2019
🚩 देश के कई राज्यों की सरकार जान चुकी है कि वैलेंटाइन डे से समाज और देश को अत्यधिक नुकसान हो रहा है उसे रोकने का विकल्प जरूरी है इसलिए 2006 से 14 फरवरी का दिन मातृ-पितृ पूजन दिवस के रूप में मनाने का विकल्प रखा गया है अब उसे और अधिक व्यापक बनाना होगा इसलिए वर्तमान में देश के कई मुख्यमंत्रियों, राज्यपाल एवं मंत्रियों ने इसकी भूरी-भूरी प्रशंसा की और इसे व्यापक रूप से मनाने की घोषणा भी कर रहे हैं ।
🚩मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ
उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी ने पत्र द्वारा बताया कि मुझे यह जानकर खुशी है कि श्री योग वेदांत सेवा समिति, 14 फरवरी का दिन ‘मातृ-पितृ की पूजन दिवस’ के रूप में मना रहे हैं ।
🚩उन्होंने आगे बताया कि पिछले कुछ दशकों से समाज एवं समाज की सामाजिक संरचना काफी हद तक बदल गयी है । इसलिए, युवा पीढ़ी में भारतीय संस्कृति के मूल्यों और आदर्शों को विकसित करना आवश्यक है । प्रशंसनीय है कि श्री योग वेदांत सेवा समिति छात्रों के चरित्र निर्माण की गतिविधियों में सक्रिय रूप से शामिल है ।
🚩योगी जी ने यह भी कहा कि मुझे उम्मीद है कि यह कार्यक्रम अपने उद्देश्यों को प्राप्त करने में सफल रहेगा । मेरी शुभकामनाएं इस कार्य के लिए हैं ।
🚩 हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री ने संदेश द्वारा दी शुभकामनाएं..
हिमाचल के मुख्यमंत्री श्री जय राम ठाकुर ने बताया कि मुझे यह जानकर खुशी है कि श्री योग वेदांत सेवा समिति ने 14 फरवरी का दिन माता-पिता की पूजा दिवस के रूप में मनाया और इस अवसर को यादगार बनाने के लिए भिन्न-भिन्न स्थानों पर हुए मातृ-पितृ पूजन के आयोजन का एक संकलन भी समिति के द्वारा साथ में लाया जा रहा है । हमें बचपन से बच्चों में नैतिक मूल्यों के संस्कार भरने चाहिए और प्राचीन भारत की परंपराओं, रीति-रिवाजों और संस्कृति के बारे में उन्हें जागृत करना चाहिए ताकि वे अपने बड़े-बुजुर्गों का सम्मान और परंपराओं का पालन करना सीख सकें । मेरा मानना ​​है कि संस्कृति और रीति-रिवाज हमारे समाज का अभिन्न अंग है और इसे हर तरह से संरक्षित किया जाना चाहिए ।
🚩गुजरात के उपमुख्यमंत्री ने मातृ-पितृ पूजन की सरहाना की
गुजरात के उपमुख्यमंत्री श्री नितिन पटेल ने संदेश द्वारा बताया कि श्री योग वेदांत सेवा समिति द्वारा #14 फरवरी को #मातृ-पितृ पूजन दिवस मनाया जा रहा इसको सुनकर बहुत प्रसन्नता हुई ।
🚩आगे बताया कि विद्यार्थियों में सुसंस्कार का सिंचन हो इसलिए अधिक से अधिक स्कूलों-कॉलेजों में मातृ-पितृ पूजन होना चाहिए। यह कार्यक्रम सफलतापूर्वक हो यही शुभकामनाएं करता हूँ ।
🚩#हरियाणा के #राज्यपाल महोदय ने भी दी शुभकामनाएं..
हरियाणा के राज्यपाल #श्री कप्तान सिंह सोलंकी जी ने बताया कि मुझे यह जानकर अत्यंत हर्ष हुआ कि श्री योग वेदांत सेवा समिति हर वर्ष की तरह इस साल भी मातृ-पितृ पूजन का आयोजन कर रही है ।
🚩उन्होंने कहा कि भारतीय संस्कृति में माता-पिता को देव माना जाता है । उन्होंने न केवल हमें जन्म दिया है बल्कि हमारे पालन-पोषण के साथ-साथ हमें शिक्षित भी किया है । हमारी हर सफलता के पीछे माता-पिता का योगदान एवं आशीर्वाद रहता है । हर्ष का विषय है कि श्री योग वेदांत सेवा समिति मातृ-पितृ पूजन कार्यक्रमों के माध्यम से समाज में माता-पिता के प्रति श्रद्धा व सम्मान की भावना का संचार कर रही है । मातृ देवो भव: पितृ देवो भव:, आचार्य देवो भव:  के वैदिक सिद्धांत के अनुसार समिति ने पूरे विश्व में मातृ-पितृ पूजन का जो शंखनाद किया है इससे बच्चों का माता-पिता के प्रति आदर भाव बढ़ेगा और समाज में सुख शांति आयेगी ।
🚩राज्यपाल महोदय ने आगे कहा कि मैं मातृ-पितृ पूजन की इस अद्भुत पहल के लिए श्री #योग वेदांत सेवा समिति की सरहाना करता हूँ और #मातृ-पितृ पूजन अभियान की #सफलता की कामना करता हूँ ।
🚩आपको बता दें कि असम के मुख्यमंत्री श्री सर्वानंद सोनोवाल जी एवं गुजरात के मुख्यमंत्री श्री विजय रुपाणी जी ने भी 14 फ़रवरी को मातृ-पितृ पूजन की भारी प्रशंसा की है और वैलेंटाइन डे की जगह मातृ-पितृ पूजन मनाने की अपील की है । आपको बता दें कि इन सभी ने पिछले साल पत्र लिखकर अपनी शुभकामनाएं प्रेषित की थीं ।
🚩आपको जानकरी दे दें कि #झारखंड #सरकार ने भी राज्य के #50 हजार स्कूलों में 14 फरवरी को #मातृ-पितृ पूजन# मनाने की #घोषणा की है और छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री माननीय श्री रमन सिंह जी की सरकार तो 2012 से ही 14 फरवरी को समस्त स्कूलों-कॉलेजों में मातृ-पितृ पूजन मना रही थी, इस साल भी मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने भी 14 फरवरी को मातृ-पितृ पूजन मनाने के लिए शुभकामनाएं दी हैं ।
 
🚩उत्तर प्रदेश और झारखंड के अनेक मंत्रियों और देश-विदेश की सुप्रतिष्ठित एवं गणमान्य हस्तियों ने भी इस अद्भुत दिवस की भूरी-भूरी प्रशंसा की है ।
🚩गौरतलब है कि 14 फरवरी को युवक-युवतियों द्वारा वैलेंटाइन डे मनाया जा रहा था जिसके कारण उन्हें अत्यधिक हानि हो रही थी इसलिए सन 2006 से #हिन्दू संत #आसाराम बापू ने 14 फरवरी को #मातृ-पितृ पूजन दिवस #मनाने की #घोषणा की, तबसे लेकर आजतक घरों, स्कूलों, कॉलेजों, गांवों, नगरों, शहरों आदि में विश्वव्यापी अभियान चलाये जा रहे हैं जिसके कारण विदेशी कम्पनियों को खरबों का नुकसान भी हुआ है लेकिन इसका सबसे अधिक फायदा हमारी युवा पीढ़ी को हुआ, युवक-युवतियों की जो हानि हो रही थी उससे वे बच गए और माता-पिता को सम्मान देना शुरू कर दिया, जिसके कारण घरों की खोई हुई खुशहाली भी लौट आयी ।
🚩समस्त #देशवासियों को 14 फरवरी के दिन वैलेंटाइन डे की जगह #मातृ-पितृ पूजन दिवस #मनाना #चाहिए ।
🚩Official Azaad Bharat Links:👇🏻
 🔺Youtube : https://goo.gl/XU8FPk
🔺 Twitter : https://goo.gl/kfprSt
 🔺 Instagram : https://goo.gl/JyyHmf
 🔺Google+ : https://goo.gl/Nqo5IX
🔺 Word Press : https://goo.gl/ayGpTG
 🔺Pinterest : https://goo.gl/o4z4BJ
Translate »