Press "Enter" to skip to content

एक के बाद एक की बारी, अब गायत्री परिवार के डॉ. प्रणव पांड्या की बारी?

07 मई 2020
 
🚩देखा गया गया है कि जो भी सनातन संस्कृति की की सेवा करने आगे आते हैं उन पर अनेक प्रकार के षड़यंत्र होते है, ये आज की बात नही है सदियों से चलता आ रहा है आपको ये भी बता दे कि भगवान बुद्ध के समय उनके ऊपर भी उनकी ही भिक्षुणी द्वारा दुष्कर्म और उसकी हत्या का आरोप लगाया गया था लेकिन उनको करोड़ो लोग भगवान मानते है और मानते रहेंगे लेकिन बात सिर्फ इतनी ही है कि जब भी कोई महापुरुष सोये हुए समाज को जगाना चाहता है और अज्ञान रूपी अंधकार से ज्ञान रूपी प्रकाश की ओर ले जाता है तो विधर्मी लोग महापुरुषों के नजदीकी लोगों को ही प्रलोभन देकर खरीद लेते है और उन पर षडयंत्र शुरू कर देते हैं।
 
🚩इसका उदाहरण स्वामी दयानंद सरस्वती जी को षड्यंत्रकारीयों ने दयानंदजी के रसोईये के तैयार किया और जहर दिलवा दिया, झांसी की रानी लक्ष्मीबाई कभी नही हारती लेकिन उनके ही नजदीकी ने गेट खुलवाकर अंग्रेजो को अंदर बुलावाकर रानी को पकड़वा दिया, ऐसे अनेक उदाहरण है अगर नजदीकी वाले लोग विधर्मियों के साथ नही बिकते तो 700 साल मुगल और 200 साल अंग्रेज हमारे देश को गुलाम नही बनाते।
 
🚩दो दिन से खबर चल रही है कि गायत्री परिवार के संचालक डॉ. प्रणव पांड्या पर बलात्कार का आरोप लगाया है! आरोप लगाने वाली लड़की छत्तीसगढ़ की है और गायत्री परिवार में पहले सेवा करती थी। एफआईआर के अनुसार लड़की ने लिखवाया है कि मेरे साथ 2010 मे बलात्कार किया गया, उस लड़की की उम्र 14 साल की थी और 10 साल के बाद दिल्ली में जीरो एफआईआर करवाती है। अब बड़ा सवाल उठता है कि 10 साल तक लड़की क्या कर रही थी? उसने बोला कि मेरी हिम्मत नही हो रही थी लेकिन निर्भया केस में फांसी मिलने के बाद मेरी हिम्मत बढ़ी। लेकिन निर्भया केस में भी फांसी मिले करीब 2 महीनें होने आये इससे तो लगता है कि लडकी किसी के कहने पर तो ऐसा नही कर रही है? और हां उसने डॉ प्रणव पंड्या की धर्मपत्नी श्रीमती शैलबाला  पांड्या पर भी आरोप लगाया है कि वे भी बलात्कार करवाने में शामिल थी। कितनी हास्यास्पद बात है कोई पत्नी अपने पति के लिए क्या अलग-अलग लड़कियां लाकर रेप करवा सकती है? और वे भी धर्म मे दृढ आस्था रखने वाली पवित्र आत्मा श्री शैलबाला पण्ड्या है जो मन मे भी ऐसा नही सोच सकती, फिर लड़कियों को अपने पति के पास दुष्कर्म करने ले जाये ऐसा तो हम सोच भी नही सकते।
 
🚩डॉ प्रणव पांड्या पूर्व न्यायाधीश स्व. श्री सत्यनारायण पंड्या के बेटे है और  तपोनिष्ठ पं॰ श्रीराम शर्मा आचार्य के दामाद है और उनकी उम्र 70 साल की है तो ऐसे पवित्र आत्मा ऐसा दुष्कर्म कर नही सकते ऐसा लगता है।
 
🚩आपको बता दे कि डॉ. प्रणव पांड्या के ऊपर केस दर्ज करवाने में गायत्री परिवार का सेवक मनमोहन सिंह, जो जमशेदपुर झारखंड का रहने वाला है और करीब 20 साल से उनके ही आश्रम में रहता है आज भी वही रह रहा है, शामिल है।
 
🚩खेर, जब सच सामने आएगा तब पता चलेगा कि वास्तविकता क्या थी लेकिन आप ही सोचो कि आपके पड़ोस की ही लड़की बोल दे कि मेरे साथ 10-20 साल पहले फलाने लड़के ने रेप किया था तो आपको कैसा लगेगा? कई जगह पर देखा गया है कि बदला लेने अथवा पैसे एठने के लिए लड़कियां किसी का मोहरा बनकर झूठे केस दर्ज करवाती है, बाद में पकड़ी जाती है तो माफी भी मांगती हैं।
 
🚩कुछ दिन पहले भागवत कथाकर श्री देवकीनंदन पर भी यौन शोषण का आरोप लगाया था फिर षडयंत्र का पर्दाफाश हुआ और महिला ने माफी भी मांगी।
 
🚩शिवमोगा और बैंगलोर मठ के शंकराचार्य राघवेश्वर भारती जी पर भी एक गायिका को 3 करोड़ नही देने पर 167 बार बलात्कार करने का आरोप लगाया था। उनको भी कोर्ट ने निर्दोष बरी कर दिया।
 
🚩श्री कृपालुजी महाराज पर 85 वर्ष की उम्र में बलात्कार का आरोप लगाया, जो कि मिथ्या प्रमाणित हुआ था।
 
🚩सौराष्ट्र (गुजरात) के श्री केशवानन्द स्वामी के ऊपर यौन शोषण का झूठा आरोप थोप कर बारह साल की जेल की सजा दी। सात साल जेल भोगने के बाद निर्दोष साबित हुए।
 
🚩ऐसे ही डॉ सुब्रमण्यम स्वामी ने कहा कि 85 वर्षीय हिन्दू संत आशारामजी बापू का केस पूरा बोगस है क्योंकि जिस समय की घटना लड़की बता रही है उस समय तो वह फोन पर अपने मित्र से बात कर रही थी और आशारामजी बापू अपने एक कार्यक्रम में व्यस्त थे, उसके फोटोज भी है और 50 लोग गवाह भी है फिर भी उनको षड्यंत्र के तहत 25 अप्रैल 2018 में उम्रकैद की सजा दे दी। बापू आशारामजी ने धर्मान्तरण पर रोक लगाई इसके कारण वेटिकन सिटी ने सोनिया गांधी से बोलकर झूठा केस दर्ज करवाया।
 
🚩आपको बता दें कि बापू आशारामजी के अहमदाबाद आश्रम में एक Fax आया था जिसमें 50 करोड़ की फिरौती की मांग की गई थी और न देने पर धमकी दी गई थी कि, अगर बापू ने 50 करोड़ नही दिए तो झूठी लड़कियां तैयार करके झूठे केस में फंसा देंगे और कभी बाहर नहीं आ पाओगे पर कोर्ट ने इनके ऊपर कोई एक्शन नहीं लिया।
 
🚩इस तरह से एक के बाद एक सनातनी साधु-संतों को टारगेट किया जा रहा है, इससे हमे सावधान रहना होगा क्योंकि विधर्मी लोग चाहते है कि सनातन हिंदू संस्कृति ही को खत्म करना है और उसके आड़े साधु-संत आते है इसलिए उनके खिलाफ साजिश रचते हैं।
 
🚩आज सुप्रसिद्ध हस्तियाँ और संतों को फंसाने में महिला कानून का अंधाधुन दुरूपयोग किया जा रहा है।
 
🚩बलात्कार कानून की आड़ में महिलाएं आम नागरिक से लेकर सुप्रसिद्ध हस्तियों, संत-महापुरुषों को भी ब्लैकमेल कर झूठे बलात्कार का आरोप लगाकर जेल में डलवा रही हैं। कानून का दुरुपयोग करने पर वास्तविकता में जो महिला पीड़ित होती है उसको न्याय भी नही मिला पाता है।
 
🚩बलात्कार निरोधक कानूनों की खामियों को दूर करना होगा तभी समाज के साथ न्याय हो पायेगा अन्यथा एक के बाद एक निर्दोष सजा भुगतने के लिए मजबूर होते रहेंगे।
 
🚩Official Azaad Bharat Links:👇🏻
 
 
🔺Youtube : https://goo.gl/XU8FPk
 
 
🔺 Twitter : https://goo.gl/kfprSt
 
🔺 Instagram : https://goo.gl/JyyHmf
 
🔺Google+ : https://goo.gl/Nqo5IX
 
🔺 Word Press : https://goo.gl/ayGpTG
 
🔺Pinterest : https://goo.gl/o4z4BJ
Translate »