Press "Enter" to skip to content

अगर आप सफर करते समय सो रहे हैं तो सावधान !! हो सकती है जेल


18 जनवरी 2020

*🚩समझो आपके कोई स्नेहीजन की मौत हो गई और आप थके हैं …और सफर के समय सो रहे हैं। गलती से पैर इधर-उधर चला गया और किसी महिला ने आप पर आरोप लगा दिया कि इसने मुझसे छेड़छाड़ कर दी और आपको जेल भेज दिया जाए तो कैसा लगेगा ??*

*🚩ऐसी ही एक सत्य घटना है जो विकास सचदेवा नाम के व्यक्ति के साथ हुई है आप भी पढ़िए पूरा मामला क्या है?*

*🚩यह घटना हर व्यक्ति को सोचने को मजबूर कर देती है कि क्या कानून बचाने के लिए है या फंसाने के लिए?*

*🚩आपको बता दें कि विकास सचदेवा नाम का एक व्यक्ति विस्तारा एयरलाइंस की फ्लाइट में सफर कर रहा था, उसी फ्लाइट में पूर्व अभिनेत्री जायरा वसीम भी सफर कर रही थी।*

*🚩दिल्ली से मुंबई आने वाली फ्लाइट जब मुंबई पहुँची तो वहाँ जायरा वसीम ने इंस्टाग्राम पर एक वीडियो के माध्यम से बताया कि मेरे साथ छेड़छाड़ी हुई है।*
*उसके बाद उसने पुलिस थाने में एफ.आई.आर दर्ज करवाई, जिसमें पुलिस ने आईपीसी की धारा 354 लगाई थी। ये धारा शीलभंग करने के इरादे से हमला करने पर लगाई जाती है और पॉक्सो एक्ट लगाया जो नाबालिग के साथ यौन उत्पीड़न की धारा लगाई जाती है ।*

*🚩विकास सचदेवा आधी रात को अपने घर पहुँचता है, सुबह उठकर पत्नी के साथ चाय-नाश्ता करता है, थोड़ी देर में घर पर पुलिस आकर गिरफ्तार कर लेती है, विकास और उनकी पत्नी को अभी तक पता नहीं है कि ऐसा क्यों हो रहा है ??* *पुलिस थाने जाने पर पता चला कि जायरा वसीम ने उनके ऊपर छेड़छाड़ का आरोप लगाया है। विकास और उसकी पत्नी को बड़ा धक्का लगा लेकिन करें तो करें क्या ?*
*कोई उपाय नहीं था, पत्नी घर पर आ गई और पति को जेल भेज दिया गया।*

*टी.आर.पी की भूखी मीडिया ने भी विकास सचदेवा को “दरिंदा” और न जाने किस-किस नाम से खूब बदनाम किया, पूरे देशभर में विकास सचदेवा की बदनामी की गई।*

*🚩सहयात्री ने पुलिस में दिया बयान….*

*फ्लाइट में जायरा वसीम के सहयात्री ने पुलिस को बताया कि वो उसी क्लास में था जिसमें जायरा और विकास सफर कर रहे थे। सचदेवा प्लेन में आते ही सो गए। इस दौरान सोते वक्त आरोपी ने अपने पैर आर्मरेस्ट पर रख दिए थे। उन्हें नहीं लगता उन्होंने छेड़छाड़ की। उनकी गलती सिर्फ इतनी थी कि उन्होंने अपने पैर आर्मरेस्ट पर रखे। इसके अलावा उन्होंने कोई गलत व्यवहार नहीं किया। सचदेवा के इस व्यवहार पर जब जायरा चिल्लाने लगी तो उन्होंने माफी भी मांगी थी। विकास और सहयात्री एक दूसरे को नहीं जानते पर दोनों के बयान मेल खाते हैं।*

*दूसरी ओर से विस्तारा एयरलाइंस के अफसरों ने भी बताया कि विकास प्लेन में पूरे समय सो रहा था।*

*🚩विकास ने बताया गलती से टच हो गया पैर…*

*विकास सचदेवा का कहना है कि उसने यह जानबूझकर नहीं किया था, दिल्ली में अपने मामा की अंत्येष्टि में गया था…. पिछले 24 घण्टे से सोया नहीं था, इसलिए वह काफी थका था और फ्लाइट में आते ही सो गया, सोते वक्त गलती से उसका पैर जायरा से टच हो गया। बाद में विकास ने माफी भी मांगी । विकास को तो पहले यह पता भी नहीं था कि सामने कोई महिला बैठी है, और वो भी एक अभिनेत्री है ।*

*🚩यह घटना दिसंबर 2017 की है, 16 जनवरी को पॉक्सो एक्ट के तहत लड़की के बयान को सच मानकर 3 साल की कारावास की सजा सुनाई गयी है। आपको बता दें कि पॉक्सो एक्ट लगने के बाद आरोपी को सिद्ध करना होता है वो निर्दोष है नहीं तो लड़की की बात को सही मानकर आपको सजा हो सकती है।*

*🚩बता दें कि सेशन कोर्ट के फैसले कई बार हाईकोर्ट ने गलत साबित किये हैं, और जिन पर आरोप सिद्ध हुआ है उनको निर्दोष बरी किया गया है ।*

*🚩अब सवाल ये आता है कि क्या पोक्सो एक्ट में सुधार नहीं होना चाहिए ?*

*अगर हाईकोर्ट उनको निर्दोष बरी करती है तो क्या सचदेवा की इज्ज़त, पैसे और समय वापस लौटा पायेंगे? उनके परिवार पर जो बीत रही है उसकी भरपाई कौन करेगा ? लड़की अगर झूठी फरियादी निकली तो क्या कानून उसको सजा देगा ?*

*🚩पुरुष आयोग की मांग करने वाली बरखा त्रेहान लिखती हैं कि #VikasSachdeva को POCSO के तहत दोषी ठहराया गया।* *गलती से #ZairaWasim को फ्लाइट में सोते हुए छूने के लिए 3 साल की  कारावास की सजा सुनाई गई है।*
*देखिए एक आदमी का जीवन एक महिला कैसे बर्बाद कर सकती है !!*
*क्योंकि महिलाएं झूठ नहीं बोलती, खासकर जब वह मुस्लिम हो और अभिनेत्री हो !!*
*#JusticeForVikasSachdeva*


*🚩विकास सचदेवा जैसे तो कई उदाहरण हैं जिसमें खास करके हिन्दू समाज को बदनाम करने के लिए साधु-संतों को फंसाया गया हो और बाद में निर्दोष बरी हुए हों, जैसे कि गुजरात द्वारका के केशवानंदजी महाराज, दक्षिण भारत के स्वामी नित्यानंद, बैंगलोर मठ के शंकराचार्य राघवेश्वर भारती जी जिनके ऊपर बलात्कार का केस बनाया, मीडिया ने खूब बदनामी की और बाद में निर्दोष बरी हुए।*

*🚩इसी प्रकार का मामला सामने है हिन्दू धर्म गुरु आशारामजी बापू का !! उन्होंने धर्मान्तरण रोका, हिंदुओं की घरवापसी करवाई और विश्व में हिंदू धर्म का प्रचार-प्रसार किया जिसके तहत उनको जेल जाना पड़ा।*

*🚩आपको बता दें कि बापू आशारामजी को उम्रकैद की सजा सुनाई है पर मेडिकल रिपोर्ट के अनुसार तो लड़की के शरीर पर एक खरोंच की भी पुष्टि नहीं होती है और ना ही कोई ऐसा एविडेंस है जो उनके खिलाफ हो, लड़की के कॉल डिटेल के अनुसार तो तथाकथित घटना के समय वह वहाँ थी ही नहीं और बापू आसारामजी भी किसी अन्य कार्यक्रम में व्यस्त थे। उसके 50-60 लोग साक्षी भी हैं फिर भी उम्रकैद सुनाना और जमानत नहीं देना अपने आप में बड़ा आश्चर्य है। जबकि उनसे 50 करोड़ की फिरौती मांगी गयी थी और मांग पूरी न करने पर उन्हें झूठे केस में फँसाने की धमकी भी दी गई थी, उसका प्रूफ भी है उनके पास।*


*🚩बलात्कार कानून की आड़ में महिलाएं आम नागरिक से लेकर सुप्रसिद्ध हस्तियों, संत-महापुरुषों को भी ब्लैकमेल कर झूठे बलात्कार के आरोप लगाकर जेल में डलवा रही हैं । कानून का दुरुपयोग करने पर वास्तविक में जो महिला पीड़ित होती है उसको न्याय नहीं मिला पाता है ।*

*🚩महिलाओं की सुरक्षा के लिये बलात्कार निरोधक में सख्ती बनाकर कानून बने हैं पर कुछ लड़कियों द्वारा उस कानून का धुंआधार दुरुपयोग किया जा रहा है। जब एक लड़की किसी निर्दोष पुरूष पर झूठा आरोप लगाती है और उस पुरुष को जेल भेज दिया जाता है, पर उसके साथ उसकी माँ-बहन-पत्नी-बेटी सभी जुड़े होते हैं, उनके लिए वो ही पुरुष आधार होता है, लेकिन जेल में जाने के बाद माँ-बहन-पत्नी-बेटी सब अनाथ हो जाते हैं । उसको घर का पालन पोषण करना भी मुश्किल हो जाता है और समाज में बदनामी होती है वो अलग ।*

*🚩न्यायाधीश राजेन्द्र सिंह ने बताया कि दलालों द्वारा प्रतिवर्ष काफी संख्या में बालिकाओं तथा महिलाओं द्वारा दुष्कर्म के प्रकरण दर्ज कराए जाते हैंं। जिसमें 90 प्रतिशत झूठे मामले निकलते हैं ।*

*🚩सरकार और न्यायालय को मीडिया पर लगाम लगानी होगी जो झूठी कहानियां बनाकर व्यक्ति को बदनाम करते हैं और बलात्कार निरोधक कानूनों की खामियों को दूर करना होगा। तभी समाज के साथ न्याय हो पायेगा अन्यथा एक के बाद एक निर्दोष सजा भुगतने के लिए मजबूर होते रहेंगे ।*

🚩Official Azaad Bharat Links:👇🏻


🔺 facebook :




🔺 Word Press : https://goo.gl/ayGpTG

🔺Pinterest : https://goo.gl/o4z4BJ
Translate »